अहमदाबाद। ऊना में पिटाई का विरोध कर रहे दलित अब पोस्टकार्ड से "बदबू गुजरात" अभियान छेड़ने जा रहे हैं। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व अमिताभ बच्चन को भी न्योता दिया जाएगा। गुजरात के पर्यटन विभाग के अभियान "खशबू गुजरात की" के जवाब में छेड़ा जा रहा है।

सरकारी अभियान का प्रचार अमिताभ बच्चन ने किया था। अहमदाबाद के समीप कलोल से ऊना दलित अत्याचार लड़त समिति मंगलवार को अपना अभियान शुरू करेगी। इसमें बच्चन को मुंबई के पते पर और मोदी को प्रधानमंत्री आवास के पते पर "बदबू गुजरात" की लिखे हजारों पोस्टकार्ड भेजे जाएंगे। उन्हें गुजरात आने का न्योता दिया जाएगा, ताकि वे मृत गायों के सड़ रहे कंकालों की बदबू ले सकें।

राज्य के दलितों ने ऊना पिटाई कांड के विरोध में यह अभियान छेड़ रखा है। समिति के संयोजक जिग्नेश मेवानी ने आरोप लगाया है कि अमिताभ ने मोदी के एजेंडे को प्रचारित करने के लिए गुजरात की झूठी छवि बनाई। उन्होंने बताया कि हमने पशुओं के शव व उनके कंकाल को हटाना बंद कर दिया है। इस कारण पशुओं के शव जहां-तहां पड़े हैं और उनकी बदबू फैल रही है।

Posted By:

  • Font Size
  • Close