शत्रुघ्न शर्मा अहमदाबाद। गुजरात में विधानसभा की 8 सीट पर होने वाले उपचुनाव में शिक्षित बेरोजगार समिति राज्य में बेकारी के मुद्दे को हवा देने के लिए बड़ी संख्या में उपचुनाव में अपने प्रत्याशी मैदान में उतारेगी। लिमडी सीट पर समिति के 116 सदस्यों ने जबकि मोरबी में सौ से अधिक फार्म खरीदे जा चुके हैं।

प्रदेश में विधानसभा की आठ विधानसभा सीट डांग, मोरबी, वलसाड जिले की कपराडा, वडोदरा की करजण, कच्‍छ की अबडासा, अमरेली की धारी तथा सुरेंद्रनगर जिले की लींबडी सीट के लिए 3 नवंबर को उपचुनाव होने हैं। कांग्रेस में भाजपा लींबडी विधानसभा सीट को लेकर भाजपा कांग्रेस दोनों दुविधा में हैं। लींबडी के पूर्व विधायक सोमाभाई पटेल कोली पटेल समुदाय से आते हैं वह एक बार फिर चुनाव लड़ने का दम भर रहे हैं लेकिन कांग्रेस भारतीय जनता पार्टी वह राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी कोई भी दल उन्हें टिकट देने को तैयार नहीं है। इस बीच शिक्षित बेरोजगार समिति के संयोजक पाटीदार आरक्षण आंदोलन के दौरान युवा नेता हार्दिक पटेल के दाहिने हाथ रहे दिनेश बामणिया शिक्षित बेरोजगार युवाओं के अधिकारों की मांग को लेकर बामणिया लगातार सरकार के खिलाफ आंदोलनरत हैं। लिंबड़ी सीट पर समिति के 108 सदस्य उपचुनाव का फार्म ले चुके हैं उधर मोरबी सीट से भी 100 से अधिक वोट खरीदे जा चुके हैं। दिनेश बामणिया का कहना है कि बेरोजगार समिति के सदस्य चुनाव में फॉर्म भरेंगे तथा सत्ताधारी दल भाजपा के खिलाफ प्रचार करेंगे।

कच्छ की अबडासा सीट पर शांतिलाल संघाणी को कांग्रेस का टिकट मिलते ही प्रदेश कांग्रेस में असंतोष उभर कर सामने आ गया। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता कैलाश दान गढवी ने पार्टी में सभी पदों से इस्तीफा दे दिया। गढ़वी का आरोप है कि पिछले चुनाव में पार्टी विरोधी गतिविधि करने वाले शांतिलाल को ही कांग्रेस ने अपना उम्मीदवार बना दिया। पिछले चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीतने वाले प्रद्युम्न सिंह जाडेजा अबकी बार भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर मैदान में हैं।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close