अहमदाबाद। मुख्‍यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा है कि गुजरात में कोरोना महामारी की दूसरी लहर समाप्ति पर है और प्रदेश इसकी तीसरी लहर का सामना करने के लिए तैयार है। इसका सामना करने के लिए कम से कम 50 फीसदी आबादी का टीकाकरण जरुरी है। उन्होंने बताया कि राज्‍य में पौने दो करोड़ से अधिक टीके लगाए जा चुके हैं, और प्रतिदिन 3 लाख टीके लगाने का लक्ष्‍य तय किया गया है। रुपाणी ने गांधीनगर से प्रमुख स्‍वामी ऑडिटोरियम के पास राजकोट में 232 करोड़ रुपये के अधिक के विविध विकास कार्यों का ई-लोकार्पण भी किया। साथ ही राज्‍य सरकार एवं राजकोट शहरी विकास प्राधिकरण की ओर से प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत तैयार फ्लैट का ड्रॉ निकाला ।

गांधीनगर से ही अपने गृह जिले राजकोट में कई विकास कार्यों का ई-लोकार्पण करते हुए मुख्‍यमंत्री रुपाणी ने कहा कि गुजरात में अब कोरोना महामारी की दूसरी लहर समाप्ति पर है। मार्च –अप्रैल 2021 में राज्‍य में कोरोना संक्रमण के मामले 15 हजार के करीब थे, जो अब घटकर 700 से 800 तक पहुंच गये हैं। रुपाणी ने कहा कि कोविड -19 वायरस से मुक्ति पाने के लिए राज्‍य ने प्रतिदिन 3 लाख टीके लगाने का लक्ष्‍य रखा है तथा 50 फीसदी टीकाकरण कोरोना की तीसरी लहर को काफी हद तक अप्रभावी बना देगा।

गुजरात के अस्‍पतालों में पहले 40 हजार बेड की क्षमता थी, जिसे अब एक लाख बेड तक पहुंचाया गया है। साथ ही सभी जिलों में ऑक्‍सीजन प्‍लांट लगने के साथ स्‍पेशल कॉविड हॉस्‍पिटल की संख्‍या भी बढ़कर सवा दौ सौ के करीब हो गई है। कोरोना महामारी के दौरान पिछले डेढ़ वर्ष में राज्‍य में 30 हजार करोड़ से अधिक के विकास कार्य कराए गए हैं।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close