Donald Trump के गुजरात भ्रमण की तारीख नजदीक आ रही है। यहां उनका स्‍वागत अनूठे अंदाज में होगा। एयरपोर्ट से गांधी आश्रम तथा आश्रम से मोटेरा स्‍टेडियम तक सडक के दोनों ओर महिला, पुरुष व बच्‍चे हाथ में भारत का तिरंगा व अमेरिकी ध्‍वज लहराकर ट्रंप व मोदी का स्‍वागत करते नजर आएंगे। गुजरात, राजस्‍थान, महाराष्‍ट्र, बिहार, उत्‍तरप्रदेश, झारखंड, उडीसा, केरल, तमिलनाडु सहित विविध राज्‍यों के 52 सांस्‍कृतिक समूह अपनी कला का प्रदर्शन करते नजर आएंगे। अहमदाबाद एयरपोर्ट से निकलते ही पारंपरिक परिधानों में सजी धजी युवतियां गरबा करते हुए ट्रंप का स्‍वागत करेंगी।

सेना के तीनों अंगों के जवान एयरपोर्ट पर ही ट्रंप व मोदी का गार्ड ऑफ ऑनर देंगे। सरदार पटेल मोटेरा स्‍टेडियम को अहमदाबाद महानगर पालिका ने बुधवार को बिल्डिंग यूज प्रमाण पत्र जारी कर दिया। अमरीकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को इसका उद्घाटन करेंगे। उधर आईएएस आईपीएस को एंटी ग्‍लेयर चश्‍मा व गोगल्‍स नहीं पहनने के निर्देश दिए हैं।

एंटी ग्‍लेयर चश्‍मा नहीं पहनें अधि कारी

गुजरात सरकार ने ट्रंप व मोदी की यात्रा को लेकर अपने अधिकारियों को प्रोटोकोल के तहत दिशा निर्देश जारी किए हैं। आईएएस व आईपीएस अधिकारी इस दौरान एंटी ग्‍लेयर चश्‍मा, गोगल्‍स व टीशर्ट नहीं पहन सकेंगे। अफसर यात्रा के दौरान सादा चश्‍मा पहन सकेंगे। पूरी यात्रा के कॉ ऑर्डिनेशन के लिए IAS, IPS की 12 टीमें बनाई गई हैं जो विविध स्‍तर व स्‍थल पर यात्रा की मॉनिटरिंग करेंगी।

युद्ध स्‍तर पर हुआ अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट स्‍टेडियम का निर्माण

मोटेरा में करीब 63 एकड में 700 करोड़ की लागत से बने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट स्‍टेडियम में बीते दो तीन माह से युद्ध स्‍तर पर निर्माण चल रहा था। मनपा आयुक्‍त विजय नेहरा ने बताया कि स्‍टेडियम में 125 हाईड्रेड पॉइंट लगे हैं, 9000 स्‍प्रिंकलर, ड्रिंकिंग वाटर पाइप लाइन, सुऐज ट्रीटमेंट प्‍लांट तथा वर्षाजल भूगर्भ रिचार्ज सिस्‍टम बनाया गया है। इसकी बैठक क्षमता दुनिया के सबसे बडे मेलबोर्न स्‍टेडियम से भी अधिक एक लाख दस हजार की है। एक मुख्‍य मैदान के अलावा दो छोटे मैदान व 11 पिच बने हैं। यहां पार्किंग में 3 हजार कार व दस हजार दुपहिया वाहन पार्क हो सकते हैं। राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को यहां आयोजित नमस्‍ते ट्रंप कार्यक्रम में शिकरत करेंगे। उनकी इस यात्रा के दौरान भारी सुरक्षा के लिए जहां आईएएस आईपीएस की 12 टीमें बनाई गई हैं। वहीं स्‍वास्‍थ्‍य सेवाके लिए 17 एम्‍बुलेंस भी तैनात रहेंगी।

Posted By: Navodit Saktawat