Gujarat Weather Update : बहुचर्चित सरदार सरोवर नर्मदा बांध में 5 से 8 लाख क्‍यूसेक पानी की आवक को देखते हुए इसके 23 दरवाजे खोल दिये गये हैं जिससे 5 लाख क्‍यूसेक पानी नदी में छोडा जा रहा है। बांध का जलस्‍तर 131.5 मीटर तक पहुंच गया है। रिवरबेड व कैनाल हैड पावर हाउस से 1150 मेगावाट बिजली का उत्‍पादन किया जा रहा है। बांध के सामने ही स्‍टेच्‍यू ऑफ युनिटी प्रतिमा खडी है!

मध्‍यप्रदेश में नर्मदा नदी पर बने इंदिरा सागर बांध तथा ओमकारेश्‍वर बांध से 5 लाख क्‍यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है, इसके 8 लाख क्‍यूसेक तक बढने की संभावना को देखते हुए सरदार सरोवर बांध के पहले 15 तथा बाद में 23 दरवाजे खोल दिये गये। बांध से 5 लाख क्‍यूसेक पानी छोडा जा रहा है ताकि बांध पर पानी के दबाव व जलस्‍तर को नियंत्रित किया जा सके। सरदार सरोवर बांध के कार्यकारी अभियंता अशोक गज्‍जर के अनुसार बांध का जलस्‍तर 131.15 मीटर तक पहुंचा है, इसकी पूरी भराव क्षमता 140.21 मीटर तक की है लेकिन इसकी अधिकतम भराव क्षमता 138.68 मीटर तय की हुई है। यहां रिवरबेड पावर हाउस से एक हजार मेगावाट तथा कैनाल हैड पावर हाउस से 150 मेगावाट बिजली का उत्‍पादन किया जा रहा है।

सरदार सरोवर नर्मदा बांध के सामने ही साधु बेट पर दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्‍टेच्‍यू ऑफ युनिटी खडी है। हरी भरी विंध्‍याचल की पहाडियों से घिरे बांध से गिरता पानी नर्मदा नदी में बहते नजर आ रहा है ओर इस मनोरम द्रश्‍य को मानो सरदार पटेल की प्रतिमा निहार रही है।

Posted By:

  • Font Size
  • Close