अहमदाबाद। अब तक अपनी कीमत की वजह से लोगों को रुलाने वाला प्याज अप किसानों को रुलाने की तैयारी में है। लगभग डेढ-दो महीने पूर्व 100 से 150 रुपए प्रति किलोग्राम के दाम पर बिकने वाली प्याज अब 20 रुपए प्रति किलो के भाव में भी नहीं बिक पा रही है। लगातार गिरते दामों की वजह से किसानों के चेहरे पर फिर चिंता की लकीरें नजर आने लगी है। गुजरात के सब्जी मार्केट यार्ड में प्याज का ढेर लगा हा है। बिक्री नहीं होने पर किसानों की आर्थिक हालत खस्ता हो गई है।

जानकारी के अनुसार, राज्य के थोक बाजार में बंपर उत्पादन के कारण भारी मात्रा में प्याज की आवक हो रही है और मंडियों में इसका ढेर लगा हुआ है। थोक बाजार में इसकी कीमतें 20 रुपए प्रति किलोग्राम निर्धारित हो रही है। राज्य के किसानों ने इस बार अत्यधिक भाव मिलने की आशा से इसकी बड़े पैमाने पर खेती की थी। जानकारी के अनुसार सौराष्ट्र एवं महाराष्ट्र प्रति दिन यहां की बाजार में 2500 टन प्याज आ रही है।

उल्लेखनीय है कि गत फसल के दौरान गुजरात एव महाराष्ट्र में बरसात के कारण प्याज की पैदावार पर विपरीत असर पड़ा था। इससे देश में प्याज का फुटकर भाव प्रति किलोग्राम 100 से 165 रुपए प्रति किलोग्राम हो गया था। वहीं इस बार प्याज की खेती दो गुना होने से बाजार में इसका भाव कम होकर 20 रुपए किलोग्राम तक हो गया है। वहीं उच्च गुणवत्ता वाला प्याज 30-35 रुपए प्रतिकिलो हुआ है। अहमदाबाद यार्ड में नासिक की प्याज 25 से 30 रुपए प्रति किलोग्राम, सौराष्ट्र मंडल में प्याज 17 से 22 रुपए प्रति किलोग्राम बिक्री है।

इसी दौरान सौराष्ट्र मंडल के मार्केटिंग यार्ड में 20 किलो ग्राम प्याज 50 रुपए में बिकी। इसी प्रकार वीसावदर यार्ड में 20 किलोग्राम प्याज 84 रुपए में बिकी। अर्थात् सवा चार रुपए प्रति किलो ग्राम के दाम पर बिकी। सूत्रो के अनुसार सौराष्ट्र में किसान 25 से 30 हजार बोरी प्याज मार्केट यार्ड में भेज रहें हैं। अहमदाबाद के सरदार पटेल यार्ड में सौराष्ट्र और नासिक से 8 हजार बोरी प्याज आ रही है। इस प्रकार पूरे गुजरात में 50 हजार बोरी प्याज की आवक हो रही है।

गुजरात में गत वर्ष 28,647 हेक्टेयर में प्याज की खेती हुई थी। परन्तु इस बार भाव बढ़ते ही किसानों ने 42,343 हेक्टेयर में प्याज की खेती की। तकरीबन पौने दो गुना की खेती में अत्यधिक उत्पादन के कारण बाजार में प्याज के भाव में कमी आ गयी है। इससे किसानों की हालत खराब है। उन्हें प्याज को मार्केट यार्ड तक ले जाना भी महंगा पड़ रहा है। यदि अगले सप्ताह भाव और गिरेगा तो किसान प्याज को रास्ते में फेकने के लिए भी मजबूर हो सकते है। हालाकि फुटकर प्याज 40-50 रुपए प्रति किलो ग्राम बिक रही है।

Posted By: Ajay Barve

fantasy cricket
fantasy cricket