अहमदाबाद। कनाडा में रह रहे एक युवक ने गुजरात उच्च न्यायालय में हेबियस कार्पस याचिका दाखिल कर अपनी पत्नी को मां बाप के कब्जे से छुड़ाने की मांग की है। याचिकाकर्ता गिरिराज सिंह चौहान ने अदालत में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर करके बताया की वह मूलतः राजस्थान का रहने वाला है जबकि युवती मेहसाणा के एक गांव की है। वे दोनों उच्च शिक्षा के लिए कनाडा गए थे। वही दोनों में प्रेम हो गया और साथ में रहने लगे 2018 में दोनों ने वहां अधिकारिक रूप से विवाह कर लिया। गिरिराज कनाडा के स्थाई निवासी हैं। उच्च शिक्षा के बाद इसीलिए इन दोनों को वहां व्हाइट कॉलर जॉब मिल गया।

गिरिराज ने अदालत को बताया कि मई 2020 में युवती अपने माता पिता से मिलने के लिए मेहसाणा आई उसके बाद से उन दोनों का संपर्क टूट गया। वह अपनी पत्नी से संपर्क भी नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने बताया कि माता पिता ने लड़की के यात्रा दस्तावेज भी छीन लिए हैं ताकि वह वापस कनाडा नहीं जा सके। गिरिराज का कहना है कि माता-पिता उन दोनों की शादी से खुश ये नहीं थे। इसलिए अब युवती को उसके पास भेजने को तैयार नहीं है। न्यायाधीश सोनिया गोकाणी ने पुलिस को युवती को तलाश कर वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पेश करने को कहा है। युवक ने पत्नी की जान को खतरा बताया है उसका कहना है कि वह स्वयं राजस्थान से है और लड़की मेहसाणा से उन दोनों की जाति अलग होने से लड़की के माता-पिता इस विवाह से नाराज हैं।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020