सूरत (ब्यूरो)। दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार नारायण साईं ने केस कमजोर करने के लिए पुलिस, न्यायपालिका, मेडिकल और जेल से जुड़े अधिकारियों को खरीदने की साजिश रची थी। वह इसके लिए तमाम तिकड़म भिड़ा रहा था, मगर ऐन वक्त पर सूरत पुलिस ने साजिश का भंडाफोड़ कर दिया।

शुक्रवार को पुलिस ने इस संबंध में आठ करोड़ की राशि बरामद की और क्राइम ब्रांच के सब इंस्पेक्टर समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने 10 दिनों की फोन टेपिंग के आधार पर इस साजिश का पर्दाफाश कर दिया।

सूरत पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही साजिश के पीछे के बड़े नामों का खुलासा किया जाएगा। पुलिस इस 13 करोड़ की रिश्वत के मास्टरमाइंड की तलाश में है। नारायण और आसाराम के समर्थन में बोलने वाले हिन्दू महासभा के अध्यक्ष चक्रपाणि महाराज को भी इस संबंध में पूछताछ के लिए नोटिस भेजा गया है।

Posted By:

  • Font Size
  • Close