सूरत। 17 सितंबर को जब पीएम मोदी दिव्यांगों के साथ गुजरात के नवसारी में अपना 66वां जन्मदिन मनाएंगे तो नवसारी के जिला प्रशासन की नजरें विश्व रिकॉर्ड पर होंगी। जिला प्रशासन पीएम के जन्मदिन को खास बनाने के साथ-साथ इसे गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल करना चाहता है।

प्रशासन ने इसके लिए सूरत, वलसाड़, नवसारी सहित पूरे दक्षिणी गुजरात से 11000 दिव्यांगों को एकत्र करने का लक्ष्य तय किया है। इन्हें पीएम मोदी के हाथों से 7.5 करोड़ की लागत के किट बांटे जाएंगे। एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक दिव्यांगों के लिए इन किट को केन्द्र सरकार द्वारा प्रायोजित किया गया है।

जून नवसारी जिला प्रशासन ने 11 तालुकाओं में दिव्यांग एसेसमेंट (मूल्यांकन) कैंप का आयोजन किया था। इसी तरह अगस्त माह में दिव्यागों के लिए सूरत, वापी, नवसारी, वलसाड़, तापी और दंग में एसेसमेंट कैंपों का आयोजन किया गया था। इससे पहले पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी इसी तरह का आयोजन किया गया था जिसमें 9200 किट दिए गए थे जो गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया था।

अब नवसारी प्रशासन की नजरें वाराणसी के रिकॉर्ड को तोड़ने पर लगी हैं जहां 11000 दिव्यागों को इस तरह के किट का वितरण किया जाएगा। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, 17 सितंबर को होने वाले इस कार्यक्रम के लिए गुरूवार तक पूरे दक्षिण गुजरात से 10135 लोगो ने ऑनलाइन पंजीकरण कर लिया था। हर रोज प्रतिभागियों के पंजीकरण की संख्या में इजाफा हो रहा है। प्रशासन को उम्मीद है कि 11000 का आंकड़ा आसानी से पार हो जाएगा।

Posted By:

  • Font Size
  • Close