कोरोना वैश्विक महामारी ने जहाँ देश को अपने शिकंजे में ले लिया है, वहीं गुजरात भी इससे अछूता नहीं रह गया है। अहमदाबाद शहर में इस बीमारी से जहाँ हाहाकार मचा हुआ है। वहीं अहमदाबाद के ग्रामीण इलाकों मे इसे फैलने से रोकने के लिए जिला प्रशासन ने अपने कर्मचारियों के सहयोग से सफलता पूर्वक कदम उठाया। यही कारण है लॉकडाउन के 50 दिन बीतने के बाद भी अहमदाबाद के ग्रामीण को इससे सुरक्षित रखने में सफलता मिली है।

अहमदाबाद के ग्रामीण इलाकों में इस दौरान आठ चेकपोस्ट पर 1,51,155 लोगों की स्क्रीनिंग, 34153 घरों के 1,37,151 लोगों का सर्वेक्षण 4601 वेन्डर्स को हेल्थकार्ड 4739 इन्डस्ट्रीयल वर्कर्स की स्क्रीनिंग तथा 70,75,035 आयुर्वेदिक काढ़ा का वितरण किया गया।

अहमदाबाद जिला कलेक्टर के.के.निराला ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अहमदाबाद जिले के ग्रामीण क्षेत्रों को इस महामारी से बचाने के लिए एक हजार कर्मचारी कार्यरत हैं। जिला में कोरोना के पहले मामले से ही कर्मचारी हरकत में आ गये हैं। अभी तक कुल 121 पॉजिटिव मामले पाये गये हैं। इनमें से चिकित्सा के बाद 53 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी गयी, 33 की चिकित्सा जारी है। 31 कोविड सेन्टर में तथा चार की मृत्यु हुई है।

अहमदाबाद जिला विकास अधिकारी अरूण महेश बाबू ने बताया कि जिला में सेनीटाइजेशन, ग्रामयोद्धा कमेटी द्वारा लोगों के आवागमन पर नियंत्रण, स्क्रीनिंग तथा थर्मल चेकअप जैसे बहुआयामी कदम उठाये गय़े हैं।

उन्होंने बताया कि जिला के 179 गाँवों के 1,58,592 घरों के 757483 लोगों शामिल करते हुए सेनेटाइजेशन किया गया है। शहर से गाँवों में प्रवेश करनेवाले मार्गों पर आठ चेकपोस्ट पर 1,51,155 लोगों की स्क्रीनिंग की गयी है। इनमें से 27 शंकास्पद व्यक्तियों को निकट के अस्पताल के लिए रिफर किया गया। सर्वेलंस के लिए 624 टीमें कार्यरत कर 34,153 घरों के 137,151 लोगों का सर्वे किया गया। जिला में मोबाइल टेस्टिंग वैन का नया प्रयोग किया गया है। जिले में कुल 2437 व्यक्तियों को कोरोन्टाइन किया गया। इनमें 1603 ने 14 दिन का कोरोन्टाइन पूरा कर लिया है। ग्रामयोद्धा कमेटी ने 4601 वेन्डर्स का स्क्रीनिंग कर 4335 को हेल्थकार्ड दिया। वहीं 70,75,035 आयुर्वेद काढ़ा का वितरण किया गया।

उन्होंने बताया कि अहमदाबाद ग्रामीण इलाकों में 5442 औधोगिक इकाइयां कार्यरत हैं इनमें 31147 श्रमिक कार्यरत है। अभी तक कुल 94548 परप्रांतीय श्रमिकों को उनके वतन भेजा गया है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan