अहमदाबाद। मुख्‍यमंत्री विजय रुपाणी ने किसानों की खरीफ फसलों के लिए जीरो प्रीमियम पर फसल बीमा की घोषणा की है। यह लाभ सभी किसानों को खराब हुई फसलों पर दिया जाएगा। उधर कांग्रेस नेता मोढवाडिया ने इसे लॉलीपोप बताते हुए यूपीए सरकार की फसल बीमा योजना लागू करने की मांग की है। मुख्‍यमंत्री विजय रुपाणी ने गांधीनगर में पत्रकार वार्ता में बताया कि प्रदेश के 56 लाख किसानों की खरीफ फसल के लिए राज्‍य सरकार जीरो प्रीमियम पर फसल बीमा की सुविधा देगी। राज्‍य में इस साल प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का अमल नहीं होगा। रुपाणी ने कहा कि इस योजना का प्रीमियम बढकर 4000 से 4500 करोड तक पहुंच गया था इसलिए केंद्र ने देने से इनकार कर दिया था। राज्‍य सरकार ने इसलिए किसान सहायता योजना लागू की है। रूपाणी ने बताया कि जून से नवंबर तक अकाल, बाढ या बेमौसम बारिश से किसानों की खरीफ फसल बर्बाद होती है तो सरकार 4 हेक्‍टेयर तक की फसल का मुआवजा दिया जाएगा।

60 फीसदी फसल के नुकसान पर प्रति हेक्‍टेयर 20 हजार व इससे अधिक फसल नष्‍ट होने पर 25 हजार रु प्रति हेक्‍टेयर का मुआवजा दिया जाएगा। किसानों को इसके लिए बीमा का पंजीकरण कराने व प्रिमियम भरने की भी जरुरत नहीं होगी। रुपाणी ने कहा किसान सहायता योजना व स्‍टेट डिजास्‍टर रिलीफ फंड इन दोनों के लाभ किसानों को दिए जाएंगे।

कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष अर्जुन मोढवाडिया ने रूपाणी सरकार की इस बीमा योजना को किसानोंको लॉलीपोप बताते हुए यूपीए सरकार में लागू फसल बीमा योजना को लागू करने की मांग की है। मोढवाडिया ने कहा कि गुजरात की रुपाणी सरकार ही केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को लागू नहीं कर स्‍केरसिटी मेन्‍युअल का भंग कर रही है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020