अहमदाबाद। कांग्रेस के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष अहमद पटेल की राज्यसभा चुनाव में जीत को चुनौती देने वाली याचिका पर चल रही सुनवाई के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री भरतसिंह सोलंकी ने कोर्ट को बताया कि पार्टी विधायकों को रिसॉर्ट में रखने पर करीब 80 लाख रुपये खर्च हुए थे। गुजरात हाई कोर्ट की जस्टिस बेला त्रिवेदी के समक्ष सोलंकी ने कहा, अगस्त 2017 में हॉर्स ट्रेडिंग की आशंका के चलते कांग्रेस ने पहले अपने 60 से अधिक विधायकों को आणंद के निजानंद रिसॉर्ट में रखा, जिस पर करीब साढ़े ग्यारह लाख रुपये खर्च हुए। इसके बाद उन्हें बेंगलुरु के ईगलटन रिसॉर्ट ले जाया गया। वहां विधायकों के ठहरने पर कांग्रेस ने 68 लाख 26 हजार रुपये खर्च किए। जब जस्टिस त्रिवेदी ने क्रास वोटिंग करने वाले विधायकों को विधानसभा की सदस्यता से अयोग्य करार देने की कार्यवाही वाले बयान के विषय में पूछा तो सोलंकी ने कहा, 'यह बयान तो मैंने ही दिया था, लेकिन कब दिया इसकी सही जानकारी नहीं है।' इससे पहले पार्टी के वरिष्ठ नेता के साथ उत्तर गुजरात के बाढ़ग्रस्त बनासकांठा जिले के दौरे की तस्वीर के बारे में पूछा गया तो सोलंकी ने बताया कि वे अहमद पटेल व सिद्धार्थपटेल के साथ बाढ़ पीड़ितों से मिलने गए थे। पटेल के प्रतिद्वंदी व भाजपा प्रत्याशी बलवंतसिंह राजपूत ने उनकी जीत को हाई कोर्ट में चुनौती दी है। इस मामले में गवाहों के बयान दर्ज किए जा रहे हैं।

Posted By: Navodit Saktawat