अहमदाबाद। 'जाको राखे साईयां, मार सके ना कोई'...सूरत में हुई एक घटना इस कहावत को चरितार्थ करती है। एक बच्चे के ऊपर से कार गुजर गई, लेकिन उसे खरोंच तक नहीं आई।

सूरत में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसकी पड़ताल में पता चला है कि यह वीडियो नाना वाराछा की हरेकृष्ण सोसायटी का है। सोसायटी में रहने वाले जिग्नेश पानसुरिया का छह साल का बेटा दीप 19 अगस्त के दिन छाता लेकर स्कूल जा रहा था।

सोसायटी परिसर में वह नीचे बैठकर अपने जूते का लैस बांध रहा था। इसी समय सोसायटी में रहने वाले नारायण भाई अपनी कार रिवर्स करते थे और दीप कार के नीचे आ जाता है। यह देख सोसायटी की एक महिला शोर मचाने लगती है। सोसायटी के सभी लोग एकत्रित हो जाते हैं। महिला का शोर सुन नारायण भाई भी अपनी कार रोक देते हैं। जैसे ही कार रुकती है दीप कार के नीचे से सुरक्षित बाहर निकलता है। बच्चे को एक खरोच भी नहीं आती है। यह देख सभी लोग आचश्चर्यचकित हो जाते हैं।

कार रिवर्स करने वाले नारायण भाई बताते हैं कि कार रिवर्स करते समय उन्होंने पीछे देखा तो कोई नहीं था। लेकिन बच्चा नीचे बैठकर जूते के लैस बांध रहा था। पूरी कार उसके ऊपर से गुजर गयी। भगवान लाख-लाख शुक्र है कि बच्चे को कुछ नहीं और उसे एक खरोच भी नहीं आई।

Posted By: Arvind Dubey