अहमदाबाद से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है। यहां दो भाइयों ने अपने ही परिवार के 4 बच्‍चों की हत्‍या कर दी। इसके दोनों ने खुद भी आत्‍महत्‍या कर ली। पुलिस को एक ही परिवार के 6 शव मिले तो इलाके में सनसनी फैल गई। पुलिस अब इस घटना के पीछे कारणेां का पता लगाने में जुटी है।

महानगर में दो भाइयों ने अपने ही बच्चों को घुमाने ले जाने के बहाने अपने किराये पर लिए फ्लैट पर ले जाकर हत्या कर दी तथा खुद ने भी आत्महत्या कर ली। पुलिस ने फ्लैट से छह जनों के शव बरामद किए हैं, इस घटना के लिए आर्थिक संकट को प्राथमिक वजह मानी जा रही है।

पुलिस को मिले सीसीटीवी फुटेज में दोनों भाई अमरीश व गौरांग पटेल जब अपने बच्‍चों को 17 जून को घर से लेकर अपने साथ जा रहे थे तब बच्‍चे खुशी खुशी उनके साथ जा रहे थे। दोनों भाई एक कपड़े की दुकान में काम करते थे। वे बच्चों को घुमाने ले जाने का कहकर निकले थे, गुरुवार देर रात्रि तक उनके वापस नहीं आने पर परिजनों को शंका हुई और उन्‍होंने तलाश शुरू की।

बाद में पता चला कि उन्‍होंने ने विजोंल में किराए पर लिए अपने ही फ्लैट में बच्चो को खाने में जहरीला पदार्थ देकर हत्या कर दोनों ने खुदकशी कर ली। वटवा जीआईडीसी पुलिस थाना निरीक्षक डी आर गोहिल ने बताया कि मृतक अमरीश पटेल 42 व गौरांग 40 दोनों भाई तथा उनके बच्चों मयूर 12, किरात 9, सानवी 7 तथा ध्रुव के शव की पहचान की जा चुकी है।

दोनों भाइयों ने छह महीने पहले प्रायोसा रेजीडेंसी की सातवीं मंजिल पर एक फ्लैट किराए पर लिया था। लेकिन फ्लैट में कोई नहीं रहता था। एक भाई का घर वटवा और दूसरे भाई का घर एक हाथीजण में है। आत्महत्या का कारण आर्थिक तंगी या पारिवारिक कारण हो सकता है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना