सूरत। सूरत में दो अलग-अलग घटनाओं में दो मासूम बच्चियों को अगवा कर उनसे दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। दोनों घटनाएं डिंडोली थाना क्षेत्र की है। पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। दूसरे मामले में आरोपी की पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस ने बताया कि शनिवार मध्यरात्री के बाद दोनों मामले सामने आए। बच्चियों की हालत खराब है। एक बच्ची की चार घंटे सर्जरी की गई। उसे 30 टांके आए है। उसके होठ पर भी चोट के निशान है।

पुलिस ने बताया कि पहली घटना नवागाम श्रम क्षेत्र की है। शनिवार शाम 5 वर्षीय मासूम बच्ची घर पास खेल रही थी, तभी पड़ोस में रहने वाले 19 वर्षीय रोशन उर्फ कालू ने बच्ची का अपहरण कर लिया। इसके बाद चार किलोमीटर दूर डिंडोली अंबिका टाउनशीप के निकट चमत्कारिक मंदिर के पीछे पड़ी लोहे की बड़ी पाइप में बच्ची से दुष्कर्म किया। इतना ही आरोपी बच्ची को तड़पता देख वहां से फरार हो गया। पुलिस ने 10 घंटे बाद आरोपी को गिरफ्तार किया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि बच्ची मंदिर के पीछे में बेहोश पड़ी है।

पुलिस घटना के 11 घंटे बाद रात के 2.30 बजे बच्ची के पास पहुंची। बच्ची लहुलूहान अवस्था में दर्द से कहरा रही थी। उससे तत्काल सूरत के स्मिमेर स्पताल में ले जाया गया। जहां बच्ची की चार घंटे तक सर्जरी हुई है। बच्ची का उपचार करने वाले डाक्टर ने बताया कि उसके होठ को दांत से बुरी तरह काटा गया है। उसके गुप्त भाग में 7 सेमी तक गंभीर चोट है। चार घंटे तक सर्जरी करने के बाद उसे 30 टांके लगाए गए हैं। फिलहाल उसकी हालत स्थिर है।

पुलिस ने बताया कि दूसरी घटना डिंडोली की है। यहां एक झोपड़ी में रहने वाले श्रमिक की पांच वर्ष की बच्ची से हेवानियत हुई। रात 10 बजे बच्ची अपने माता पिता के साथ सो रही थी। देर रात पौने दो बजे बच्ची की रोने की आवाज सुनाई दी। पिता ने देखा कि वह लहूलुहान हालत में है। उसे तुरंत अस्पताल में ले गए। जहां इलाज के दौरान डाक्टरों ने बच्ची से दुष्कर्म होने की पुष्टी की। पुलिस ने बच्ची से पुछताछ की लेकिन वह ठीक नहीं बता पा रही है।

सूरत वासियों में गुस्सा ,आरोपियों को फांसी देने की मांग

सूरत में शनिवार को हुई दोनों घटनाओं के बाद लोगों में गुस्सा भड़क उठा है। लोगों का कहना है कि आरोपियों को उनके हवाले कर दिया जाए या तो सरकार उन्हें जल्द से जल्द फांसी पर लटकाए। वहीं बच्चियों के माता-पिता ने धमकी दी है कि आरोपियों को फांसी नही होगी तो वे खुद फांसी लगाकर आत्महत्या कर लेंगे।

Posted By: