अहमदाबाद। गुजरात के अहमदाबाद शहर में अलग-अलग मामलों में पतियों द्वारा आत्महत्या का मामला सामने आया है। एक मामले में पत्नी द्वारा उसके भाई की शादी पति की सौतेली बहन से करवाने का दबाव था, तो दूसरे मामले में पत्नी एक्स्ट्रा मेरिटल अफेयर के कारण तलाक लेना चाहती थी। मंगलवार को अहमदाबाद के अलग-अलग पुलिस स्टेशन में पत्नियों द्वारा तलाक की धमकी के बाद पतियों के सुसाइड का मामला दर्ज हुआ।

पहला मामला

चंद्रेश्वर नगर सोसायटी के रहने वाले दशरत प्रजापति (45) ने अपनी बहू हेतल के खिलाफ रिवरफ्रंट ईस्ट पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत के अनुसार, उनके बेटे विजय (23) की शादी 24 जनवरी को कोर्ट में बिना परिवार को सूचना दिए हेतल से हुई थी क्योंकि वे इस शादी के खिलाफ थे। परिवार का आरोप है कि हेतल का परिवार चाहता था कि विजय की 18 साल की सौतेली बहन की शादी हेतल के भाई से हो जाए। लगभग शादी के डेढ़ महीने बाद, विजय और हेतल उनके घर आए और शादी के बारे में बताया। उसके बाद हेतल के बड़े भाई-बहन उसे वापस ले गए कि रस्म-रिवाज के साथ उसे भेजेंगे। जब 15 दिनों तक वह नहीं लौटी तो विजय ने हेतल को कॉल किया लेकिन उसे लौटने की शर्त रखी कि अगर उसकी सौतेली बहन की शादी भाई से करवाई तो ही आएगी। शादी न होने पर उसने विजय को तलाक की धमकी दी। उसने कृष्णनगर पुलिस स्टेशन में विजय के खिलाफ हैरेसमेंट और ब्लैकमेलिंग का मामला दायर किया और तलाक के लिए वकीलों को बुलाती रही। विजय तलाक की बात को सह नहीं पाया और 14 अप्रैल को घर छोड़कर चला गया। उसका शव 16 अप्रैल को साबरमती रीवरफ्रंट के पास तैरता हुआ मिला। पुलिस ने आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया है।

दूसरा मामला

दूसरी शिकायत सैटेलाइट पुलिस स्टेशन में दर्ज हुई, जहां सुरेंद्रनगर में वाधवान की रहने वाली रतनबेन परमार (40) ने बयान में कहा कि उसका बोपाल में रहने वाला भतीजा मयूर परमार (26) की आत्महत्या के कारण पत्नी जागृति ही है जो कि उसे तलाक देने की धमकी देती थी। शिकायत के मुताबिक, मयूर ने रतनबेन को बताया था कि उसकी पत्नी का एक शख्स से अवैध संबंध है और उस पर तलाक के लिए दबाव डाल रही है। वह तीन महीने तक घर नहीं लौटा और 13 अगस्त को मीसिंग कंप्लेंट के बाद वापस आया। जागृति का पूरा परिवार उसे तलाक के लिए दबाव डाल रहा था और मानसिक प्रताड़ना दे रहा था। 24 अगस्त को मयूर ने अपनी आंटी को कॉल कर बताया कि जागृति उनकी बेटी के साथ अल्केश नाम के लड़के के साथ थी। रतनबेन के मुताबिक जागृति ने उसे परिवार की मदद से जान से मारने की धमकी भी दी थी। इस सुसाइड के मामले में जागृति, उसका भाई, मां और दो कजिन के खिलाफ केस दर्ज किया है।

Posted By: Sonal Sharma