अहमदाबाद। महानगरपालिका के स्विमिंग पुल में महिला तैराकों की नियुक्ति के लिए प्रशिक्षु महिलाओं ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। यहां मनपा संचालित सात स्विमिंग पुल में महिलाओं को जनरल बैंच में बुलाया जाता है। महिलाओं की मांग है कि उनके लिए महिला कोच की नियुक्ति की जाए।

यहां मनपा संचालित स्विमिंग पुल में तैरना सीखने और तैरने के लिए आने वाली महिलाओं को प्रशिक्षित किया जाता है। इनके प्रवेश के लिए प्रवेश फार्म में महिला ट्रेनर द्वारा प्रशिक्षित करने की जानकारी दी जाती है।

हाईकोर्ट में दायर याचिका में कहा गया है कि मनपा द्वारा 27 स्विमिंग पुल का संचालन किया जाता है। इनमें से सात स्विमिंग पुल में महिलाओं के लिए व्यवस्था की गयी है। प्रवेश के समय महिलाओं को आश्वस्त किया जाता है कि उन्हें महिला कोच द्वारा प्रशिक्षित किया जायेगा।

उनके लिए विशेष तौर पर दोपहर को स्वीमिंग की व्यवस्था की जायेगी। ऐसे में नौकरी शुदा महिलाएं स्वीमिंग का लाभ नहीं ले सकती । एसी महिलाओं के लिए भी स्वीमिंग की अलग व्यवस्था होनी चाहिए तथा महिला ट्रेनर ही होना चाहिए।

इस मामले में मुख्य न्यायाधीश आर, सुभाष रेड्डी और न्यायाधीश वी.एम. पंचौली की खंडपीठ ने मनपा को नोटिस देकर इसी महीने में सुनवाई निर्धारित की है।

Posted By:

  • Font Size
  • Close