अहमदाबाद। उत्तर गुजरात के बनासकांठा जिले से गुजरती नर्मदा नहर में कूदकर सोमवार को चार लड़कियों ने सामूहिक आत्महत्या कर ली है। अभी तक लड़कियों के शव नहीं मिले है। लेकिन पुलिस को घटना स्थल से एक सुसाइट नोट मिला है।

जानकारी के मुताबिक दोपहर तीन बजे के आसपास की यह घटना हुई है। अज्ञात शख्स ने पुलिस को फोन कर बताया कि देवपुरा से गुजर रही नर्मदा नहर में 20 से 30 साल की उम्र की चार लड़कियों ने कूद कर जान दे दी है। सूचना मिलने के बाद दमकल जवानों के काफिले के साथ पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई।

इसके थोड़ी देर बाद स्थानीय विधायक गेनीबेन ठाकोर और जिला कलेक्टर भी घटना स्थल पर पहुंच गए। पुलिस ने बताया कि तैराको की मदद से शवों को खोजा जा रहा है । घटना स्थल से लड़कियों के चप्पल और एक सुसाइट नोट मिला है। जिसमें लडकियों की पहचान वावा के देथली गांव के ठाकोर समुदाय की मीनाक्षी, जमना, शिल्पा और हकी के रुप में हुई है।

पुलिस ने बताया कि घटना की खबर मिलते ही उनके परिजन भी पहुंच गये है। प्राथमिक पुछताछ और सुसाइट नोट में जो उल्लेख किया गया है कि उससे पता चलता है कि चारों लड़कियों में से मीनाक्षी और शिल्पा को वाल्व की बीमारी थी। चारों में से तीन लड़कियों की शादी हो चुकी थी। लेकिन चारों लड़कियों को एक-दूसरे का साथ पसंद था।

पुलिस ने बताया कि सुसाइट नोट में मीनाक्षी के नाम से उल्लेख किया गया है कि उसके सांस की बीमारी है तथा अन्य एक लड़की को ससुराल नहीं जाना है। पुलिस का मानना है कि चारो लड़कियां आपस में काफी अच्छी दोस्त थी और अलग नहीं होना चाहती थी इसलिए चारों ने यह कदम उठा लिया है। फिलहाल मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।