Weather Update : शत्रुघ्‍न शर्मा, अहमदाबाद। गुजरात में बीते कुछ दिनों से लगातार हो रही बारिश के चलते दक्षिण गुजरात व सौराष्‍ट्र के कुछ जिलों में जनजीवन अस्‍त व्‍यस्‍त हो गया है। सुरेंद्रनगर के लखतर में बादल फटने से भारी नुकसान की खबर है यहां बीते 24 घंटे में साढे सात इंच पानी गिरा। राजकोट के गोंडल में एक अंडरब्रिज में यात्रियों से भरी बस व एम्‍बुलेंस फंस गई। गुजरात की 230 तहसीलों में बीते कुछ दिनों से लगातार बारिश दर्ज की गई है। राज्‍य में मानसून की 58 फीसदी बरसात हो चुकी है। दक्षिण गुजरात व सौराष्‍ट्र में अच्‍छी बरसात हो रही है,मौसम विभाग ने आगामी 16 व 17 अगस्‍त को गुजरात में भारी वर्षा की आशंका जताई है। मछुआरों को तब तक समुद्र में नहीं जाने के निर्देश दिये गये हैं, समुद्री किनारों पर खतरे के निशान वाले सिग्‍नल लगाये गये हैं। दक्षिण गुजरात के नवसारी में कई गांवों के संपर्क टूट गये। सरकार ने बाढ के हालात से निपटने के लिए सुरेंद्रनगर, जामनगर, बनासकांठा, मोरबी, नवसारी ,राजकोट आदि जिलों में एनडीआरएफ की 13 टीमें तैनात कर दी है। अमरेली के लाठी में भी बीते चौबीस घंटे में भारी वर्षा दर्ज की गई है। सूरत में पिछले 48 घंटे में 13 इंच वर्षा रिकार्ड की गई, गुरुनगर इलाके के करीब 150 मकानों में पानी भर गया।

इसके अलावा सूरत, वडोदरा, खंभात, ओलपाड,जसदण,चूडा, नडियाद, मूली, वांकानेर आदि शहरों में भी अच्‍छी बरसात हुई है। राजकोट के गोंडल में पानीसे भरे अंडरब्रिज में यात्रियों से भरी बस फंस गई तथा एक एम्‍बुलेंस जा फंसी। जेसीबी व स्‍थानीय लोगों की मदद से बस व यात्रियों को बाहर निकाला गया। वहीं एम्‍बुलेंस से मरीजों को गोद में उठाकर बाहर लाया गया।

सरदार सरोवर नर्मदा बांध में 51.52 फीसदी जलसंग्रह हो चुका है, इसके अलावा उत्‍तर गुजरात के 15 बांधों में 26 फीसदी जलसंग्रह, सौराष्‍ट्र के 35 बांधों में 17 फीसदी, मध्‍य गुजरात के 17बांधों में 38 फीसदी, कच्‍छ के 20बांधों में 40 प्रतिशत जलसंग्रह हो चुका है।

वेदर वॉच ग्रुप के शहर आयुक्‍त हर्षद पटेल ने राज्‍य के विविध शहरों में जोरदार वर्षा के बाद हालात का जायजा लिया। उन्‍होंने बताया कि बीते 30 सालों में हुई बरसात की औसत के आधार पर राज्‍य में अब तक 58 प्रतिशत बारिश हो चुकी है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020