HamburgerMenuButton

Share Market: निवेशकों को दूसरी तिमाही के नतीजों से बड़ी उम्मीद, शेयर बाजारों पर दिखेगा असर

Updated: | Sun, 18 Oct 2020 05:11 PM (IST)

नई दिल्ली share market news । कोरोना वायरस का खतरा अभी टला नहीं है लेकिन लॉकडाउन के बाद मिली छूट और आर्थिक गतिविधियों के फिर शुरू होने के बाद अर्थव्यवस्था ने रफ्तार पकड़ना शुरू कर दी है। ऐसे में अब कई कंपनियों के दूसरी तिमाही के नतीजों की छाप इस सप्ताह घरेलू शेयर बाजारों पर दिखेगी। जानकारों का कहना है कि कोविड-19 से जुड़े घटनाक्रमों तथा वैश्विक रुख का भी शेयर बाजारों पर खासा असर दिख सकता है। कई विश्लेषकों के मुताबिक ऊंचे स्तर पर मुनाफावसूली भी कुछ सत्रों में शेयर बाजारों को प्रभावित कर सकती है। यूरोप में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों का असर पिछले सप्ताह स्थानीय बाजारों पर दिखा। अगर कोरोना मामले बढ़ते रहे तो दुनियाभर के शेयर बाजारों के कारोबार प्रभावित होते दिखेंगे।

बीएसई सेंसेक्स में आई गिरावट

बीते सप्ताह बीएसई के 30 शेयरों वाले सेंसेक्स में 526.51 अंक या 1.29 प्रतिशत की गिरावट आई थी। रेलिगेयर ब्रोकिंग के वाइस प्रेसिडेंट-रिसर्च अजित मिश्रा ने कहा कि शेयर बाजारों को सीधे प्रभावित करने वाली कोई घटना नहीं दिख रही है। ऐसे में वैश्विक संकेतों तथा कोरोना संक्रमण और इनसे जुड़ी परिस्थितियों से बाजार की दिशा तय होगी। किसी भी देश में कोरोना संकट को लेकर नई बंदिशें लगाई गईं, तो दुनियाभर के शेयर बाजारों की इन पर तीखी प्रतिक्रिया दिख सकती है।

बाजार के नीचे आने का आसार

इस सप्ताह आइडीबीआइ बैंक, एसीसी, बजाज ऑटो, हिंदुस्तान यूनीलिवर, अल्ट्राटेक सीमेंट, बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व और जैसी बड़ी कंपनियों तिमाही नतीजे प्रस्तावित हैं, जिनके शेयरों पर उनकी कमाई की छाप दिखेगी। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विंसेज के रिसर्च प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा कि आगे चलकर बाजार के कुछ नीचे आने के आसार हैं।

निवेशकों को दूसरी तिमाही के नतीजों से बड़ी उम्मीद

निवेशकों की निगाह कंपनियों के तिमाही नतीजों, कोरोना के वैश्विक आंकड़ों, अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से जुड़े घटनाक्रमों और चीन के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) पर रहेगी। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विंसेज के रिसर्च प्रमुख विनोद नायर का कहना था कि बाजार तेजी से कोरोना पूर्व की स्थिति में पहुंच रहा है। ऐसे में अब उसमें कुछ करेक्शन दिख सकता है। इससे बाजार में कुछ उतार-चढ़ाव आएगा, जो कुछ समय तक बना रहेगा। निवेशकों को कंपनियों के दूसरी तिमाही के नतीजों से बड़ी उम्मीदें हैं।

Posted By: Sandeep Chourey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.