HamburgerMenuButton

Gold Import: हर साल 900 टन सोना आयात करता है भारत, लेकिन अब कोरोना के चलते ये है हालात

Updated: | Mon, 19 Oct 2020 11:21 AM (IST)

नई दिल्ली Gold Import। कोरोना संकट काल में सोने का आयात भी बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। यही कारण है कि बीते कुछ माह से सोने की कीमत आसमान छू रही है। सोने का आयात चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही (अप्रैल-सितंबर) के दौरान 57 फीसदी घटकर 50658 करोड़ रुपये रहा है। हाल ही में वाणिज्य मंत्रालय से सोने के आयात संबंधी आकंड़ों को जारी किया। गौरतलब है कि सोने का आयात देश के चालू खाते के घाटे (कैड) को प्रभावित करता है। बीते वित्त वर्ष की पहली छमाही में सोने का आयात 110259 करोड़ रुपए का था, वहीं अप्रैल-सितंबर के दौरान चांदी का आयात भी 63.4 प्रतिशत घटकर 5,543 करोड़ रुपए रह गया। सोने और चांदी के आयात में कमी से देश का चालू खाते का घाटा कम हुआ है। देश में आयात और निर्यात के इस अंतर को कैड कहा जाता है। अप्रैल-सितंबर में कैड घटकर 23.44 अरब डॉलर रह गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 88.92 अरब डॉलर रहा था।

वाणिज्य मंत्रालय द्वारा जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में रत्न एवं आभूषणों का निर्यात 55 प्रतिशत घटकर 8.7 अरब डॉलर रहा। गौरतलब है कि भारत दुनिया के सबसे बड़े सोना आयातकों में से है। भारत सालाना 800 से 900 टन सोने का आयात करता है। घटते आयात के कारण सोना इस वर्ष लगभग 25 फीसदी तक महंगा हुआ है। मैनुवेल मालबार ज्वलैर्स के प्रबंध निदेशक एम. मैनुवेल ने कहा कि सोने का भाव 50 हजार पर पहुंच जाने से खुदरा मांग में कमी आई है।

गोल्ड ईटीएफ पर निवेशकों का भरोसा

इस बीच गोल्ड ईटीएफ में निवेशकों ने अपना यकीन बनाकर रखा है। सितंबर में निवेशकों ने 597 करोड़ रुपए का निवेश किया। विशेषज्ञों का कहना है कि गोल्ड ईटीएफ में हालिया मिलने वाले रिटर्न की वजह से निवेशकों का भरोसा बढ़ा है। सोने की जगह प्लेटिनम के गहने खरीदने का चलन बढ़ रहा है। इसके अलाव लोग प्लेटिनम में निवेश भी कर रहे हैं। इस साल प्लेटिनम की बिक्री 30 फीसदी तक बढ़ने की उम्मीद है। सोने के मुकाबले प्लेटिनम का दाम भी 40 फीसदी कम है। गौरतलब है कि भारत विश्व स्तर पर प्लेटिनम के गहनों की बिक्री का बड़ा केंद्र बनकर उभरा है।

Posted By: Sandeep Chourey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.