Chhattisgarhs Participant in KBC 2021: केबीसी में चिरमिरी के पंकज ने जीते 12.50 लाख, कहा— अब टेंशन नहीं, गर्व का कारण बन गया

Updated: | Mon, 20 Sep 2021 10:58 PM (IST)

अंबिकापुर। Chhattisgarh Participant in KBC 2021: कौन बनेगा करोड़पति सीजन 13 में छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले के चिरमिरी डोमनहिल के रहने वाले 30 वर्षीय पंकज कुमार सिंह 12 लाख 50 रुपये जीतने में कामयाब रहे। इस रकम से वे अपने घर के पास एक किराना दुकान खोलने का अपना सपना पूरा कर पाएंगे। पिछले करीब 15 वर्षों से रीढ़ की हड्डी से संबंधित एक दुर्लभ बीमारी जुवेनाइल एंकिलोजिंग स्पॉन्डिलाइटिस से पीड़ित हैं। परेशानियों से घिरे पंकज बीकॉम ग्रेजुएट हैं और बेरोजगार रहे हैं। अब उनका विजयी पल आया है, जिसने उन्हें आत्मनिर्भर बनने और अपने हौसलों की उड़ान भरने के लिए पंख दिए हैं। पंकज के केबीसी की हॉट सीट पर बैठने वाले एपिसोड का प्रसारण सोमवार की रात नौ बजे से हुआ।

अमिताभ बच्चन से मिलने की खुशी जाहिर करते हुए पंकज ने कहा कि सर (अमिताभ बच्चन) से मिलने के बाद उन्हें ऐसा लगा, जैसे मैंने सबकुछ हासिल कर लिया हो। जैसे मैंने निर्वाण प्राप्त कर लिया हो। इसकी वजह यह है कि मैंने उनके सामने हॉट सीट पर बैठकर पहले ही अपने माता-पिता का सपना पूरा कर लिया है। उनके पिता कैलाश सिंह सेंट्रल कोलफील्ड्स लिमिटेड (सीसीएल) के सेवानिवृत्त कर्मचारी हैं और मां चंद्रावती देवी गृहिणी हैं।

उन्होंने आगे बताया कि अमिताभ बच्चन के साथ बात करते हुए उन्हें बड़ा अपनापन महसूस हुआ। उन्होंने मुझसे मेरी समस्याओं के बारे में पूछा और मेरा हौसला बढ़ाया। उन्होंने मुझसे यह भी पूछा कि मैंने वो सब कैसे हासिल किया, जो एक सामान्य इंसान भी नहीं कर सकता था। उन्होंने मुझसे कहा कि मैं किसी की बात पर ध्यान ना दूं और अपना काम जारी रखूं। आप अपने माता-पिता का गौरव हैं और भविष्य में भी आप अपने काम से अपने माता-पिता के गर्व का कारण बनेंगे।

पंकज ने बताया कि जब वे कक्षा आठवीं में थे तो उनके शरीर की हड्डियों में धीरे-धीरे दर्द होना शुरू हुआ। 12वीं तक आते दर्द लगातार बढ़ता चला गया। बेहद कठिनाइयों से 12वीं की परीक्षा दे पाए। फिर उन्हें पढ़ाई छोड़नी पड़ गई। परीक्षण के बाद डॉक्टरों ने इस बीमारी के संबंध में बताया और कहा कि उन्हें आजीवन दवा लेनी पड़ेगी। बनारस में रहने वाले उनके जीजा ने हौसला बढ़ाया और इलाज व योग प्राणायाम से वे अपने अंदर आत्मविश्वास लौटा सके।

इसके बाद उन्होंने साल 2018 में बी.कॉम की पढ़ाई पूरी की। उनका यह भी कहना है कि पाप-पड़ोस में रहने वाले और कई रिश्तेदार कहा करते थे कि इनके परिवार में सब—कुछ तो ठीक है बस यही एक टेंशन का कारण बना हुआ है। अब ये दिन है कि वे उन पर गर्व महसूस कर रहे हैं। जीते हुए पैसों को लेकर पंकज ने ये भी कहा कि वे इससे कोई ऐसा कोर्स करना चाहेंगे, जिससे मैं घर में बैठे ही ऑनलाइन कुछ काम किया जा सके। फिर अपनी एक दुकान भी खोलना चाहते हैं। पंकज ने बताया कि उनके माता-पिता भी सदी के महानायक से मिलने के ख्वाहिशमंद रहे हैं। उनकी इच्छा भी पूरी हो गई है।

बताई ख्वाहिश और स्क्रीन पर आ गए जेनेलिया-रितेश

इस शो में एक मधुर पल के दौरान होस्ट अमिताभ बच्चन ने पंकज कुमार की फेवरेट एक्ट्रेस जेनेलिया देशमुख से रूबरू होने की उनकी ख्वाहिश भी पूरी की। जेनेलिया ने अपने पति रितेश देशमुख के साथ उनसे वीडियो कॉल पर बात की और इस जोड़ी ने उन्हें शुभकामनाएं भी दीं।

Posted By: sandeep.yadav