Bilaspur News : शतरंज स्पर्धा में प्रमिश को मिला प्रथम स्थान

Updated: | Tue, 19 Oct 2021 05:10 PM (IST)

बिलासपुर।Bilaspur News : सीपत फ्रेंड्स क्लब सोंठी द्वारा एक दिवसीय शतरंज प्रतियोगिता आयोजित किया गया। इसमें बिटकुला के प्रमिश पाटनवार व सोठी के अजय वैष्णव के बीच फाइनल स्पर्धा हुआ। इसमें प्रमिश ने छह अंक व सोंठी के अजय ने पांच अंक बनाए। इस प्रमिश ने एक अंक से जीत हासिल की।

इस दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ मछुआ कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष राजेंद्र धीवर ने कहा कि खेल हमारे जीवन का अनिवार्य अंग है। इससे शारीरिक व मानसिक विकास होता है। खेल का प्रदर्शन जीवन में संघर्ष सहने की पहली सीढ़ी है। उन्होंने सीएम की राजीव युवा मितान योजना के तहत खेल व संस्कृति को बढ़ावा देने प्रयासरत है। स्पर्धा में 64 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया।

मड़ई के ही एक आंख से दिव्यांग राजाराम टेंगवर ने भी स्पर्धा में शामिल होकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया और जीत हासिल की। कार्यक्रम का संचालन प्रमोद साहिल ने किया। इस अवसर पर सरपंच राजेंद्र पटेल, भागीरथी पोर्ते, चिंताराम चंद्राकर, शेषनारायण साहू, राधेश्याम कश्यप , रामकुमार धीवर, लकेश्वर सिंह, घनश्याम ठाकुर, देवेश शर्मा, दीपक साहू, विमल तिवारी, प्रदीप पांडेय, कासिम अंसारी, विनोद यादव, राहुल कैवर्त, पवन कश्यप सहित खिलाड़ी एवं ग्रामीण बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।

स्कूली बच्चों में धार्मिक उन्न्यन का प्रयास सराहनीय : तोखन

बच्चों में कोरोना काल में धार्मिक उन्न्यन करने के लिए धर्म जागरण समन्वय विभाग द्वारा इस प्रकार का आयोजन सराहनीय है।इससे बच्चे धर्म संस्कृति के जड़ से जुड़ सकते हैं। ज्ञात हो धर्म जागरण समन्वय विभाग मुंगेली लोरमी के तत्वावधान में छात्र-छात्राओं में धर्म संस्कृति सभ्यता और परंपरा के प्रति जुड़ाव स्थापित करने सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में स्पर्धा आयोजित किया गया। ज्ञानेश्वर क्षत्रिय ने कहा कि धार्मिक शिक्षा के बगैर व्यक्ति का संपूर्ण विकास नहीं हो सकता।

पूर्व नपंअध्यक्ष मनीष त्रिपाठी ने कहा कि सर्र्वांगीण ज्ञान के लिए धर्म और अध्यात्म छात्र-छात्राओं को सत्य और असत्य में चलने का राह सिखाता है। साथ ही साथ भैयालाल सिंह और देवेंद्र सिंह परिहार ने बच्चों को संबोधित किया। प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में अक्षत शर्मा ने 18 समूहों के माध्यम से छात्र छात्राओं से प्रश्नोत्तरी स्पर्धा किया। इसमें विजेता प्रथम पुरस्कार इकतीस सौ अक्षत शर्मा द्वारा पन्न्धाय समूह, द्वितीय पुरस्कार इक्कीस प्रो. कृष्ण कुमार जायसवाल द्वारा रानी दुर्गावती समूह, तृतीय पुरस्कार ग्यारह सौ नवदुर्गा इलेक्ट्रिकल्स द्वारा सुखदेव समूह के छात्र छात्राओं को प्रदान किया गया ।

कार्यक्रम के प्रायोजक निरंजन अग्रवाल, अनिल जायसवाल, रामनिवास, विनोद चौहान रहे। कार्यक्रम का संचालन मनहरण सिंह आचार्य ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में धर्म जागरण जिला संयोजक संजय सिंह, महावीर सिंह, अक्षत शर्मा, उमाशंकर, मनहरण सिंह, धर्मजीत सिंह, दीपक कुलमित्र, अवधेश सिंह सहित अन्य लोग रहे।

Posted By: Yogeshwar Sharma