HamburgerMenuButton

Bilaspur News: कोरबा के उमरेली को शिकस्त देकर सिवनी की टीम बनी क्रिकट स्पर्धा का चैंपियन

Updated: | Mon, 18 Jan 2021 11:30 AM (IST)

बिलासपुर। Bilaspur News: करतला के ग्राम पंचायत उमरेली में 25 दिनों का क्रिकेट टूर्नामेंट आयोजन किया गया। स्व. प्रहलाद यादव की स्मृति में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर ग्राम पंचायत के सरपंच रमेश सिदार एवं क्षेत्र के जनपद सदस्य नर्मदा देवांगन उपस्थित रहे। श्रृंखला में महाराज इलेवन सिवनी ने विजेता का खिताब हासिल करने सफल रही। अतिथियों ने टीम को चैंपियन का शील्ड एवं दस हजार रुपये का प्रथम पुरस्कार प्रदान किया।

भांवर भाटा मैदान उमरेली आयोजित प्रतियोगिता में 64 टीमों ने हिस्सा लिया था। फाइनल मैच में टूर्नामेंट की दोनों ही बड़ी टीमों के बीच रोमांचक मुकाबला देखने को मिला। फाइनल मैच में अपनी टीम की ओर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता चूड़ामणि राठौर एवं मनीष राठौर युवा अध्यक्ष कांग्रेस शक्ति शामिल हुए। महाराज इलेवन सिवनी एवं उमरेली के मध्य फाइनल मैच हुआ।

इसमें महाराज इलेवन ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया, जो निर्धारित 12 ओवर में 80 रन बना पाई। महाराज इलेवन सिवनी के गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए उमरेली की टीम को 20 रन रहते आल आउट कर दिया और क्रिकेट प्रतियोगिता में अपना कब्जा जमाया। उप विजेता रही उमरेली को शील्ड एवं पांच हजार की पुरस्कार राशि प्रदान की गई।

महेश चंद्राकर रहे मैन आफ द सीरीज

अपनी टीम को जीत का तमगा दिलाने अहम भूमिका निभाने वाले महाराज इलेवन के खिलाड़ी आकाश मैन आफ द मैच रहे। उन्होंने उत्कृष्ट गेंदबाजी करते हुए चार विकेट चटकाए। टूर्नामेंट के मैन आफ द सीरीज पर ज्योति सागर उमरेली टीम के महेश चंद्राकर ने कब्जा जमाया। उन्होंने अपनी गेंदबाजी से टीम को क्वार्टर फाइनल तक ले गए।

उन्होंने टीम के लिए चार मैचों में 14 विकेट लेकर टूर्नामेंट के मैन आफ द सीरीज का खिताब अपने नाम किया। उन्हें प्रतीक चिन्ह एवं 15 सौ रुपये का पुरस्कार दिया गया। ग्राम उमरेली में बीते कई वर्षों से टूर्नामेंट आयोजित नहीं हुआ था। इस आयोजन में दर्शकों की भारी भीड़ देखी गई।

श्यामसुंदर ने निभाई गढ़ तोड़ने की परंपरा

गांव में गढ़ मड़ाई मेला का आयोजन किया जा रहा है। मेले में गढ तोड़ने की परंपरा है, जिसे ज्योति सागर टीम के गेंदबाज श्यामसुंदर बंजारे ने तोड़ा। फाइनल मैच के अवसर पर अतिथि के तौर पर होरीलाल बंजारे, राजकुमार सूर्यवंशी, दीपचंद बंजारे, छोटे लाल केवट, फिरनलाल यादव, खिलावन देवांगन, तरुण देवांगन, लक्ष्मीनारायण बंजारे, व्यास नारायण देवांगन, फेकू राम बंजारा(गब्बर) शामिल हुए जिन्होंने समिति के सदस्यों का हौसला बढ़ाया समिति में पुरुषोत्तम बंजारे, छोटू बंजारे, अजय बंजारे, सुरेंद्र खंडे, मनीराम बंजारे, दिनेश बरेट, महेश चंद्राकर, सूरज चंद्राकर, कौशल बंजारे, श्यामसुंदर बंजारे, गंगाराम रोहिदास उपस्थित रहे।

Posted By: sandeep.yadav
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.