HamburgerMenuButton

Atal University Bilaspur: अटल विवि में त्रुटि सुधार के नाम पर लिए जा रहे 100-100 रुपये

Updated: | Thu, 24 Jun 2021 10:00 AM (IST)

बिलासपुर। Atal University Bilaspur: अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय में त्रुटि-सुधार के नाम पर 100-100 रुपये वसूल किया जा रहा है। छात्रों ने बुधवार को इस पर जबरदस्त नाराजगी जाहिर किया। आरोप लगाया कि परीक्षा विभाग ने प्रवेश पत्र में पर्यावरण की परीक्षा का जिक्र कर पहले संशय में डाला। जबकि प्रथम वर्ष में इसकी परीक्षा हो चुकी है। अब इस त्रुटि को सुधारने वसूली अभियान चलाया जा रहा है। इसे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उग्र आंदोलन की रणनीति बन रही है।

अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय छात्र संघ सचिव व आशीर्वाद पैनल के अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने इस मुद्दे पर विश्वविद्यालय को घेरने का प्रयास किया। आरोप लगाया कि एक के बाद एक गड़बड़ी से विश्वविद्यालय की छवि धूमिल हो रही है। प्रवेश से लेकर परीक्षा में आनलाइन प्रक्रिया के नाम पर लूट मचाई जा रही है। एक ओर छात्र-छात्राओं को शुल्क वापसी का लालच देकर दूसरी ओर त्रुटि सुधार के नाम पर शुल्क लिया जा रहा है।

दरअसल कोरोना महामारी के कारण प्रथम व द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों को प्रोन्न्त कर अगली कक्षा में भेज दिया गया था। इस वर्ष छात्र जब अपना प्रवेश पत्र अपलोड कर रहे हैं तो उन्हें पुन: पर्यावरण की परीक्षा में सम्मिलित होना दिखाया जा रहा है जबकि वे विद्यार्थी प्रथम वर्ष में पर्यावरण की परीक्षा में उत्तीर्ण हो चुके हैं। विद्यार्थी जब इसे सुधरवाने परीक्षा विभाग पहुंच रहे हैं तो उनसे त्रुटि सुधार के नाम पर 100-100 रुपये मांगे जा रहे है। बकायदा इसकी रसीद भी दी जा रही है। यह बिल्कुल गलत है।

त्रुटि सुधार के नाम पर शुल्क तय है। यदि किसी विद्यार्थी को कोई समस्या है तो लिखित या ई मेल पर हमें भेजें। छात्रहित का पूरा ख्याल रखा जा रहा है। नियमविरुद्ध कोई शुल्क नहीं लिया जा रहा है।

डा.प्रवीण पांडेय

परीक्षा नियंत्रक, अटल बिहारी वाजपेयी विवि

Posted By: sandeep.yadav
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.