रेडी टू ईट को भूपेश सरकार ने बना दिया कमीशन टू ईट: हर्षिता पांडेय

Updated: | Tue, 30 Nov 2021 02:42 PM (IST)

बिलासपुर। राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष हर्षिता पाण्डेय ने रेडी टू ईट कार्यक्रम से महिलाओं को अलग करने पर कड़ा विरोध करते हुए कहा कि भूपेश सरकार ने इसे कमीशन टू ईट में बदल दिया है।

हर्षिता ने आज एक विज्ञप्ति में कहा कि छत्तीसगढ़ की वर्तमान भूपेश सरकार महिला विरोधी है। ये महिलाओं को रोज़गार देना तो दूर उल्टे उनसे रोज़गार छीन रही।

हर्षिता पांडेय ने बताया कि भाजपा सरकार में हज़ारों की संख्या में महिला समूहों का गठन हुआ था और उन्हें मध्यान्ह भोजन तथा रेडी टू इट के साथ साथ राशन दुकानों की भी जिम्मेदारी दी गयी थी जो कि महिलाओं के सशक्तीकरण की दिशा में एक बड़ा मील का पत्थर साबित हुआ था।

इस सरकार में रेडी टू ईट में कमीशन का बड़ा खेल हुआ है, इसलिए ये कार्य हरियाणा के शराब ठेकेदार को दे दिया गया है। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार शराब बंदी का वादा करके सत्ता में आई इस सरकार ने उल्टे घर घर शराब पहुंचा कर महिलाओं का जीवन और नर्क बना दिया है। ये सरकार की नीतियां महिलाओं के आर्थिक और सामाजिक विनाश का कारक बन रही हैं।

Posted By: sandeep.yadav