Bilaspur Crime News: नगर पंचायत अध्यक्ष और पार्षद ने सीएमओ को बंधक बनाकर दी जान से मारने की धमकी

Updated: | Fri, 22 Oct 2021 09:26 PM (IST)

बिलासपुर। Bilaspur Crime News: नगर पंचायत मल्हार के अध्यक्ष और पार्षद ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी को कमरे में बंद कर जान से मारने की धमकी दी। साथ ही इसकी शिकायत करने पर दूसरे मामलों में फंसाने की बात कही। सीएमओ ने इसकी जानकारी अधिकारियों को देकर मल्हार चौकी में शिकायत की है। इस पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। नगर पंचायत मल्हार के सीएमओ गिरीश कुमार चंद्रा शुक्रवार को अपनी ड्यूटी पर थे। वे नगर पंचायत कार्यालय स्थित अपने कमरे में बैठकर शासकीय काम निपटा रहे थे।

इसी बीच नगर पंचायत के अध्यक्ष अनिल कुमार कैवर्त ने उन्हें अपने कमरे में बुलवाया। थोड़ी ही देर बाद उन्होंने दूसरी बार फिर से सीएमओ को बुलावा भेजा। इस पर सीएमओ अपना काम छोड़कर नगर पंचायत के पास गए। वहां पर पहले से ही नगर पंचायत उपाध्यक्ष लक्ष्मण कांत, एल्डरमैन अमित पांडेय, नवीन अग्रवाल, पार्षद मनमोहन कैवर्त, दुर्गेश कैवर्त व अन्य मौजूद थे। सीएमओ के पहुंचते ही नगर पंचायत अध्यक्ष ने टेंडर जारी करने को लेकर बहस शुरू कर दी। इस पर सीएमओ ने पीआइसी में टेंडर पास होने की बात कही। इस पर नगर पंचायत अध्यक्ष ने टेंडर निरस्त करने दबाव बनाना शुरू कर दिया।

मना करने पर उसने सीएमओ से धक्का-मुक्की करते हुए जान से मारने की धमकी दी। इस बीच अध्यक्ष ने पार्षद मनमोहन कैवर्त को चेंबर का दरवाजा बंद करने को कहा। दरवाजा बंद होते ही अध्यक्ष और पार्षद मनमोहन ने गाली-गलौज शुरू कर दी। इस बीच वहां मौजूद अन्य पार्षदों ने किसी तरह बीच-बचाव की कोशिश नहीं की। इसका विरोध करने पर नगर पंचायत अध्यक्ष ने सीएमओ को दूसरे मामलों में फंसाकर नौकरी से निकलवाने की धमकी दी। घटना से भयभीत सीएमओ ने इसकी जानकारी अधिकारियों को दी। इसके बाद मल्हार चौकी में शिकायत की है।

शिकायत लेने से किया इन्कार, चौकी में धरने पर बैठे सीएमओ

घटना की शिकायत लेकर गिरीश चंद्रा व जिले के अन्य सीएमओ मल्हार चौकी गए। वहां पुलिस ने उनकी शिकायत लेने से इन्कार कर दिया। इस पर सीएमओ अपने साथियों के साथ चौकी में बैठ गए। बाद में मल्हार पुलिस ने सीएमओ को डाक्टरी जांच के लिए अस्पताल भेज दिया। वहीं, शिकायत लेकर कार्रवाई शुरू कर दी।

Posted By: Yogeshwar Sharma