Bilaspur Crime News: चुनाव में हार का बदला लेने पूर्व सरपंच के बेटे को मारने बुलवा लिया शूटर

Updated: | Sun, 24 Oct 2021 12:51 AM (IST)

बिलासपुर। Bilaspur Crime News: चुनाव में दो बार पिता के हार का बदला लेने के लिए युवक ने पूर्व सरपंच के बेटे को मारने ओडिशा से शूटर बुला लिया। वारदात से पहले ही पुलिस को भनक लग गई। पुलिस ने आरोपित युवकों को देसी कट्टा के साथ पकड़ लिया। आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। सरकंडा थाना प्रभारी परिवेश तिवारी ने बताया कि शुक्रवार की शाम सूचना मिली कि बंगालीपारा गली नंबर तीन में एक युवक देसी कट्टे के साथ घूम रहा है।

इस पर पुलिस ने रतनपुर क्षेत्र के नेवसा निवासी सुमेश कश्यप(24) को पकड़ लिया। पुलिस ने आरोपित युवक के कब्जे से देसी कट्टा जब्त कर पूछताछ की। शुस्र्आत में युवक पुलिस को गुमराह करने लगा। कड़ाई करने पर सुमेश ने बताया कि उसके रिश्तेदार गिधौरी निवासी किशन कश्यप की गांव के पूर्व सरपंच शिवनारायण कश्यप से रंजिश है। इसे लेकर शिवनारायण के बेटे मोंटी से पहले मारपीट हुई थी। इसके कारण किशन मोंटी की हत्या कराना चाहता है। उन्होंने मोंटी की हत्या के लिए ओडिशा के शूटर कूंदन सागर को बुलाया था। शूटर के साथ वे गिधौरी में किशन के फार्म हाउस में स्र्के थे। मौका नहीं मिलने और हथियार की कमी होने के कारण कूंदन सागर उनके साथी करण कश्यप के साथ ओडिशा लौट गया है। पूछताछ के बाद पुलिस ने किशन और सुमेश को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, कूंदन और करण कश्यप फरार हैं।

दो बार चुनाव हारने के बाद मारपीट

आरोपित किशन के पिता भोले शंकर कश्यप दो बार मोंटी के पिता श्ािवनारायण से सरपंच का चुनाव हार चुके हैं। वहीं, बीते पंचायत चुनाव के दौरान किशन की मां उपसरपंच की दावेदार थीं। इसमें भी शिवनारायण के पक्ष का उपसरपंच चुनाव जीत गया। चुनाव के दौरान ही रात में किसी ने भोले शंकर की पिटाई कर दी। उन्होंने मोंटी पर मारपीट का आरोप लगाया। इसकी शिकायत थाने में नहीं की गई थी।

एक लाख में दी थी हत्या की सुपारी

मोंटी की हत्या के लिए आरोपित किशन ने मोंटी की हत्या के लिए ओडिशा में रहने वाले कुंदन को एक लाख स्र्पये की सुपारी दी थी। सौदा तय होने के बाद कुंदन बीते दिनों गिधौरी आ गया। यहां आने के बाद उसे मौका नहीं मिल पाया। इस उसने और हथियार की जरूरत होना बताया। इसके बाद किशन से 75 हजार स्र्पये लेकर कुंदन और करण ओडिशा गए हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है।

इंस्टाग्राम चेटिंग से खुला राज

सरकंडा थाना प्रभारी परिवेश तिवारी ने बताया कि चोरी के एक मामले में पुलिस की टीम जांच कर रही थी। इसी बीच पुलिस को देसी कट्टा की सूचना मिली। इस पर पुलिस ने देसी कट्टे के साथ सुमेश को पकड़ लिया। उसके मोबाइल की जांच करने पर चेटिंग से देसी कट्टा खरीदने की जानकारी मिली। साथ ही मोंटी की हत्या की योजना का पता चला।

सकते में आया परिवार

देसी कट्टे के साथ युवकों के पकड़ाने के बाद इसकी जानकारी पूर्व सरपंच शिवनारायण को मिली। सरकंडा पुलिस ने पूर्व सरपंच को युवकों की योजना के बारे में बताया। अपने बेटे की हत्या की साजिश की जानकारी मिलने पर पूर्व सरपंच सकते में आ गए। वहीं, मोंटी भी युवकों की योजना जानकर आवक रह गया।

Posted By: Yogeshwar Sharma