Bilaspur High Court News: छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट का महत्वपूर्ण फैसला- पुलिस स्थापना बोर्ड को ही है तबादले का अधिकार

Updated: | Sun, 17 Oct 2021 01:20 PM (IST)

बिलासपुर। Bilaspur High Court News: कोरबा जिले में पदस्थ महिला पुलिस अधिकारी की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने महत्वपूर्ण फैसला सुनाया है। जस्टिस पी सैम कोशी के सिंगल बेंच ने आइजी गुप्तवार्ता द्वारा जारी तबादला आदेश को खारिज कर दिया है। जस्टिस कोशी ने पुलिस एक्ट में दिए गए प्राविधान का पालन करने का निर्देश दिया है। पुलिस एक्ट में प्राविधान है कि पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों के तबादले का अधिकार पुलिस स्थापना बोर्ड को है।

इंस्पेक्टर गायत्री वर्मा ने वकील अभिषेक पांडेय के जरिए छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट में याचिका दायर कर कहा है कि वह जिला- कोरबा में स्पेशल ब्रांच में इंस्पेक्टर के पद पर पदस्थ थी । मार्च 2021 में पुलिस महानिरीक्षक (आइजी) गुप्तवार्ता ने एक आदेश जारी कर उनका तबादला जिला- कोरबा से जिला- गौरेला-पेंड्रा-मरवाही कर दिया। कोरबा से सीधे नए जिले में तबादला के कारण उनकी पारिवारिक दिक्कत कुछ ज्यादा ही बढ़ गई है। याचिकाकर्ता ने कहा है कि उनकी एक छोटी बधाी है जो कक्षा चौथी में अध्ययनरत है एवं उन पर बच्ची की पूर्ण जवाबदारी है।

पढ़ाई—लिखाई से लेकर पालन पोषण की जिम्मेदारी उठा रही हैं। याचिकाकर्ता के वकील अभिषेक पांडेय ने सुनवाई के दौरान पुलिस एक्ट में दी गई व्यवस्थाओं का हवाला देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस एक्ट 2007 के नियम 22 (2) (च ) में यह प्रविधान है कि पुलिस विभाग में कांस्टेबल, हेडकांस्टेबल, एएसआई एसआई (सब इंस्पेक्टर), इंस्पेक्टर रैंक के पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों का एक जिले, जोन, रेंज से दूसरे जिले, जोन, रेंज में सिर्फ पुलिस स्थापना बोर्ड जिसका मुखिया पुलिस महानिदेशक होता है उनके द्वारा ही तबादला आदेश जारी किया जा सकता है।

याचिकाकर्ता के मामले में पुलिस महानिरीक्षक गुप्तवार्ता द्वारा याचिकाकर्ता का एक जिले से दूसरे जिले में स्थानांतरण किया गया जो उनके अधिकार क्षेत्र से बाहर है। मामले की सुनवाई जस्टिस पी सैम कोशी के सिंगल बेंच में हुई। प्रकरण की सुनवाई के बाद जस्टिस कोशी ने याचिकाकर्ता को राहत देते हुए आइजी गुप्तवार्ता द्वारा जारी स्थानांतरण आदेश को रद कर दिया है। याचिकाकर्ता को पुन: कोरबा जिले में ज्वाइनिंग दिए जाने का आदेश जारी किया है।

Posted By: sandeep.yadav