HamburgerMenuButton

Bilaspur News: छत्तीसगढ़, ओडिशा एवं एमपी के रोटरी सहायक प्रांतपालों का प्रशिक्षण

Updated: | Sun, 07 Mar 2021 09:00 AM (IST)

बिलासपुर। Bilaspur News: रोटरी क्लब बिलासपुर क्वीन की ओर से छत्तीसगढ़ ओडिशा एवं मध्य प्रदेश के रोटरी असिस्टेंट गवर्नर ट्रेनिंग सेमिनार का आयोजन किया गया। डिस्ट्रिक ट्रेनर डा. निखिलेश त्रिवेदी के मार्गदर्शन में कार्यक्रम हुआ।

क्लब अध्यक्ष शिल्पी चौधरी ने स्पीकर्स का स्वागत करते हुए क्लब के सेवा गतिविधियों की जानकारी दी। आयोजन चेयरपर्सन प्रेरणा खुराना ने प्रशिक्षण शिविर की महता को बताते हुए वर्तमान परिप्रेक्ष्य में ट्रेनिंग को महत्वपूर्ण बताया। प्रथम सत्र के माडरेटर पूर्व प्रांतकल राकेश दावे ने लीडरशिप की बारीकियांे से परिचित करते हुए प्रशिक्षण प्रारंभ किया। उन्होंने कहा कि अच्छा लीडर हमेशा अपनी टीम की बात सुनता और उनका सहयोग करने के लिए तत्पर रहता है। इसकी तरह अच्छा परिणाम पाया जा सकता है।

वहीं रोल्ज एंड रेस्पांसिबिलिटी स्ट्रटीजिक प्लानिंग रोटरी थीम स्पेशल अटेंशन, सदस्यता अभिवृद्धि, पब्लिक रिलेशन फाउंडेशन सेवा गतिविधियों में निरंतरता विषयों पर निर्वाचित प्रांतपाल शशांक रस्तोगी, डा. राजीव शर्मा, सुनील पाठक, सुबोध तोले जतिंदर शर्मा ने इंटरेक्शन के माध्यम से सहायक प्रांतपालों को प्रशिक्षित किया।

मालूम हो की तीन प्रांतों छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश एवं ओडिशा से सन रोटरी क्लबों को प्रशासनिक व्यवस्थापन की दृष्टि से संचालित करने रोटरी अंतरराष्ट्रीय द्वारा रस असिस्टेंट गवर्नर्स का मनोनयन किया गया है। ज्ञात हो कि सहायक प्रांतपालों का रोटरी सत्र एक जुलाई 2021 से प्रारंभ होगा।

आयोजन में सत्र 2021-22 की प्रथम महिला निलांबरी फाटक, डिस्ट्रिक सेक्रेटरी जनरल, अखिल मिश्र, क्लब सचिव मनीषा जायसवाल, कोषाध्यक्ष वंदना सिंह, क्षमा सिंह, उप अध्यक्ष,अध्यक्ष इलेक्ट अर्चना अग्रवाल, वंदना चतुर्वेदी, एकता विरवानी, श्रद्धा खंडूजा, स्वाति श्रीवास्तव, रुचिका कौर, शेफाली दुआ, भावना चोपड़ा, नेहा गोविंदनी, सुनीता खेत्रपाल, प्रकृति वर्मा, समीर कनाडे, अशोक गुप्ता आदि उपस्थित थे।

Posted By: Yogeshwar Sharma
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.