Bilaspur Railway News: ट्रेन के थमे पहिए तो यात्रियों को रात स्टेशन में गुजारनी पड़ी

Updated: | Fri, 22 Oct 2021 01:45 PM (IST)

बिलासपुर। Bilaspur Railway News: डोंगरगढ़ के पास सालेकला व दरेकसा के बीच गुरुवार को एक मालगाड़ी बेपटरी हो गई। इस घटना का असर ट्रेनों के परिचालन पर पड़ा। यात्रियों को ट्रेन के इंतजार में पूरी रात जोनल स्टेशन में गुजारनी पड़ी। इस अव्यवस्था के कारण यात्री परेशान हुए। सबसे बड़ी परेशानी यह हुई कि यात्रियों को रात जग के गुजारनी पड़ी, क्योंकि ट्रेनें कब बिलासपुर पहुंचेंगी इसकी सही जानकारी ही नहीं मिल पा रही थी।

मालगाड़ी बेपटरी होने की यह घटना अप लाइन लाइन पर हुई। इस घटना के बाद नागपुर रेल मंडल में हड़कंप मच गया। इंजीनियरिं से लेकर सभी विभागों के अधिकारी व कर्मचारी घटना स्थल पर पहुंचे। इसके बाद मालगाड़ी के उतरे पहिए को पटरी पर लाने के लिए मशक्कत शुरू हुई। लेकिन इस में कई घंटे लग गए। इधर अप लाइन बंद होने के कारण गुजरने वाली ट्रेनों को बीच रास्ते में नियंत्रित करनी पड़ी। केवल डाउन लाइन से दोनों दिशा की ट्रेनें गुजर रही थी। इस घटना के चलते मुंबई, अहमदाबाद समेत अन्य शहरों से पहुंचने वाली ट्रेन विलंब हो गई। इन ट्रेनों में बिलासपुर रेलवे स्टेशन से जिन यात्रियों का रिजर्वेशन था। वे समय पर पहुंच गए। यहां आने के बाद जब उन्हें ट्रेन के विलंब की सूचना मिली तो उनकी चिंता बढ़ गई। दरअसल कई यात्री ऐसे थे जिन्हें जरुरी काम से जाना था।

ऐसे यात्री कभी पूछताछ केंद्र तो कभी स्टेशन मास्टर के पास पहुंचकर ट्रेनों के आगमन की जानकारी लेते रहे हैं। इस दौरान उन्हें घटना की जानकारी दी। साथ ही यह भी बताया गया कि फिलहाल ट्रेन विलंब से चल रही है और बिलासपुर में कब तक पहुंचेगी यह कहा नहीं जा सकता। इसके चलते यात्री स्टेशन में डटे रहे। मुंबई- हावड़ा मेल, अहमदाबाद- हावड़ा, गोंदिया जनशताब्दी, एर्नाकुलम- बिलासपुर ये सभी ट्रेन रात की बजाय सुबह बिलासपुर रेलवे स्टेशन पहुंची।

मेल, गीतांजलि, अहमदाबा व गोंदिया स्पेशल प्रभावित

गुरुवार शाम 7:30 बजे पहुंचने वाली गोंदिया से रायगढ़ जाने वाली जनशताब्दी स्पेशल ट्रेन शुक्रवार की सुबह 5:30 बजे बिलासपुर पहुंची। इसी तरह शाम छह बजे की मुंबई- हावड़ा मेल रात 12 बजे, रात 1:20 बजे आने वाली मुंबई- हावड़ा गीतांजलि एक्सप्रेस सुबह 4:50 बजे, रात 1:30 बजे की अहमदाबा- हावड़ा स्पेशल ट्रेन सुबह 4:35 बजे पहुंची।

वापसी में भी दिखा असर, रायगढ़ से चार घंटे विलंब से पहुंची जनशाब्दी

इस लेटलतीफी का असर दूसरे दिन यानी शुक्रवार को भी दिखा। सुबह 8:40 बजे बिलासपुर पहुंचने वाली रायगढ़- गोंदिया जनशताब्दी स्पेशल ट्रेन दोपहर एक बजे के करीब पहुंची। इसके चलते यात्रियों को परेशानी हुई।

Posted By: Yogeshwar Sharma