राष्ट्रीय सिं​धी मंच का प्रथम स्थापना दिवस मनाया, वेबिनार से समाज में लाई जागरूकता

झूलेलाल मंदिर चकरभाठा से किया गया प्रसारित।

Updated: | Thu, 27 Jan 2022 03:42 PM (IST)

बिलासपुर। राष्ट्रीय सिं​धी मंच के प्रथम स्थापना दिवस पर संत लालदास साईं ने आशीर्वाद दिया। मुख्य अथिति गुरमुख जगवानी, सिंधी जगत के संगीत सरताज़ परमानंद प्यासी, समाजसेवी आनंद कुकरेजा इन सभी ने समाज के हालात को ध्यान में रखते एकजुटता का संदेश दिया। साथ ही कहा कि दृदय में शीतलता रख दिलों में समाज की ज्योत को जागृत करना होगा। लोग कई पंथों में बंट गए हैं। ईष्टदेव परम पिता झूलेलाल साईं को घरों में विराजमान करना और सिंधी समाज की कुल देवी हिंगलाज माता हैं। समाज की जगत माता पिता को भूल गए हैं, जिसका प्रभाव घर के बच्चों पर भी पड़ा है।

बच्चे अपने माता पिता को ही सम्मान नहीं कर पाते। कहते हैं कि हमारा स्वभाव हमारे भविष्य का निर्माता होता है और प्रकृति लौटाकर देती है। राष्ट्रीय सिंधी मंच के स्थापना दिवस पर अन्नदान और अपनी टीम के 26 कोरोना योद्धा व जो निश्शुल्क ब्यूटी मेकअप सेवा देते हैं उन्हें मोमेंटो देकर स्थापना दिवस मनाया गया।

राष्ट्रीय सिंधी मंच की संस्थापक डा. सपना कुकरेजा ने बताया कि राष्ट्रीय सिंधी मंच को एक वर्ष पूर्ण हुआ। उक्त एक वर्ष में संस्था की संस्थापक सपना कुकरेजा द्वारा पूरे भारतवर्ष में अलग अलग शहरों में घूमकर समाज के बहुमूल्य रत्नों को एक माला में पिरोया। प्रोग्राम का संचालन नरेश गांगुली व प्राप्ति वाशानी ने किया। आभार प्रदर्शन संस्था के अध्यक्ष सपना कुकरेजा ने किया। आभार प्रदर्शन दर्शन कुकरेजा ने और पल्लव पा कर प्रोग्राम का गंगाराम आमेश्वरा ने किया। इस आनलाइन कार्यक्रम को सिंधी समाज के लोगों ने अपने— अपने घरों से देखा। इसमें शहर के साथ देशभर के समाज के लोग शामिल थे।

Posted By: sandeep.yadav
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.