Bilaspur News: केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना एक जिला एक उत्पाद, उद्यमियों की शुरू हुई तलाश

Updated: | Sat, 23 Oct 2021 10:57 AM (IST)

बिलासपुर। Bilaspur News: केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना एक जिला एक उत्पाद के लिए जिला उद्योग एवं व्यापार केंद्र के अधिकारियों ने इस क्षेत्र में करियर बनाने वाले युवाओं की तलाश शुरू कर दी है। विभाग के अधिकारी युवाओं की तलाश करेंगे व उद्योग संचालित करने के लिए बैंक से कर्ज भी दिलाएंगे।

जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र बिलासपुर द्वारा केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्यम उन्न्यन योजना (पीएमएफएमई) के लिए आनलाईन आवेदन मंगाया है। योजनांतर्गत एक जिला एक उत्पाद के तहत बिलासपुर जिले को मत्स्य आधारित उत्पाद आबंटित किया गया है। जिसमें निजी खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों को भी शामिल किया गया है।

इस योजना के अंतर्गत प्रति पात्र उद्योगों को परियोजना लागत का 35 प्रतिशत की दर से के्रडिट लिंक्ड पूंजी सब्सिडी के तहत अधिकतम 10 लाख स्र्पये दिये जाने का प्रावधान है एवं लाभार्थी की कुल लागत का न्यूनतम 10 प्रतिशत अंशदान राशि होगा एवं शेष राशि बैंक ऋण होगा। योजना के अंतर्गत पंूजी निवेश के लिए मौजूदा निजी सूक्ष्म उद्योगों को सहायता देने के संबंध में मत्स्य आधारित उत्पादों का उत्पादन करने वालों को प्राथमिकता दी जाएगी। नये उद्यमों को सहायता केवल मत्स्य आधारित उत्पादों के लिए ही दी जाएगी। मत्स्य आधारित उत्पादों के अतिरिक्त अन्य उत्पाद हेतु केवल ऐसे आवेदकों को सहायता दी जाएगी जो उन उत्पादों का पहले से ही प्रसंस्करण कर रहे है।

ये है जस्र्री शर्त

उद्यम अनिगमित होना चाहिए और उसमें 10 से कम श्रमिक होना चाहिए। उद्यम के स्वामित्व की स्थिति की स्पष्ट जानकारी देनी होगी। आवेदक 18 वर्ष से अधिक का होना चाहिए। आवदेन न्यूनतम 8वीं कक्षा की शैक्षणिक योग्यता रखता हो। एक परिवार से केवल एक व्यक्ति वित्तीय सहायता प्राप्त करने का पात्र होगा।

Posted By: sandeep.yadav