Chhattisgarh Nyay Yojna: बिलासपुर में 25 हजार 500 श्रमिकों ने न्याय पाने के लिए भरी अर्जी

Updated: | Tue, 28 Sep 2021 01:19 PM (IST)

बिलासपुर। Chhattisgarh Nyay Yojna: राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत अब तक जिले के 25 हजार 500 से अधिक भूमिहीन परिवारों ने आवेदन जमा किया है। हितग्राहियों को अर्जी जमा करने के लिए 30 नवंबर तक पंजीयन कराने की सुविधा दी गई है। हितग्राहियों को आवेदन जमा करने के लिए सभी ग्राम पंचायतों में आवेदन का प्रपत्र भेज दिया गया है। एक पन्न्े के आवेदन में मांगी गई सभी जानकारियों को भरकर इसे जमा करना है। एक सितंबर से हितग्राहियों से आवेदन लेने का कार्य किया जा रहा है।

राज्य शासन ने प्रदेश में पूर्व प्रधानमंत्री व भारत रत्न स्व राजीव गांधी के नाम पर एक और योजना का संचालन करने का निर्णय लिया है। इसके तहत प्रदेश के भूमिहीन कृषि मजदूरों को आर्थिक संबल प्रदान करने के लिए राज्य सरकार ने राजीव गांधी ग्राामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत हितग्राहियों से आवेदन जमा कराने का काम किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्र में भूमिहीन कृषि मजदूर परिवार की पहचान कर इन परिवारों को प्रति वर्ष छह हजार स्र्पये आर्थिक अनुदान उपलब्ध कराया जाएगा। यह राशि हितग्राहियों को सीधे उनके बैंक खाते में जमा कराई जाएगी। प्रशासन के आला अफसरों का मानना है कि इससे हितग्राहियों के शुद्ध आय में वृद्धि होगी।

0 जिले में ग्राम पंचायतों की कुल संख्या-483

0 बिल्हा जनपद पंचायत में कुल ग्राम पंचायत-127, प्राप्तआवेदनों की संख्या 6819

0 कोटा जनपद पंचायत में कुल ग्राम पंचायत- 131,प्राप्त आवेदनों की संख्या 4214

0 मस्तूरी जनपद पंचायत में कुल ग्राम पंचायत-103, प्राप्त आवेदनों की संख्या 8736

0 तखतपुर जनपद पंचायत में कुल ग्राम पंचायत- 122, प्राप्त आवेदनों की संख्या 5766

योजना एक नजर में

0 ग्रामीण भूमिहीन कृषि परिवार के मुखिया को सहायता राशि प्राप्त करने के लिए आवेदन पत्र के साथ राजीव गांधी ग्राामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के पोर्टल में पंजीयन कराना अनिवार्य होगा।

0 अपंजीकृत परिवारों को अनुदान की पात्रता नहीं होगी।

0 पंजीकृत हितग्राही परिवार की मुखिया की मृत्यु हो जाने पर उस परिवार के द्वारा पात्रता अनुसार नया आवेदन प्रस्तुत करना होगा।

0 गलत जानकारी देकर अनुदान सहायता राशि प्राप्त की जाएगी तब विधिक कार्रवाई की जाएगी। संबंधित हितग्राही से भू राजस्व के बकाया के रूप में राशि वसूल की जाएगी।

0 पंजीयन के लिए हितग्राही परिवार को आवश्यक दस्तावेज आधार नंबर, बैंक पासबुक की छायाप्रति के साथ आवेदन ग्राम पंचायत में पास जमा करना होगा।

0 आवेदन में मोबाइल नंबर की जानकारी देनी होगी। आवेदन की पावती ग्राम पंचायत सचिव देंगे।

Posted By: sandeep.yadav