फ्लिपकार्ट से धोखाधड़ी: ईएमआइ नंबर बदलने वाले चार पकड़ाए

Updated: | Fri, 03 Dec 2021 05:42 PM (IST)

बिलासपुर। ई-कामर्स कंपनी फ्लिपकार्ट के एक्सचेंज आफर में ग्राहकों की ओर से धोखाधड़ी के मामले का साइबर सेल और सरकंडा पुलिस ने पर्दाफाश किया है। पूछताछ में पता चला कि आरोपित ई-कामर्स कंपनी को चूना लगाकर लोगों को कम दाम में महंगे मोबाइल बेचा करते थे। पुलिस ने चारो आरोपित को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है।

एसएसपी दीपक झा ने बताया कि फ्लिपकार्ड की लाजिस्टिक कंपनी के हब इंचार्ज रोशन खान(28) ने धोखाधड़ी की शिकायत की है। उन्होंने बताया कि पिछले छह महीने से कंपनी की ओर से मोबाइल पर एक्सचेंज आफर चलाया जा रहा है। इसमें पुराने मोबाइल का मूल्यांकन कर नए मोबाइल की कीमत से घटाकर दिया जा रहा था। कर्मचारी केवल ईएमआइ नंबर चेक कर पुराना मोबाइल ले रहे थे। पुराने मोबाइल जब कंपनी के हेड आफिस पहुंचे तो गड़बड़ी की जानकारी हुई।

इसके बाद कंपनी ने इस आफर को बंद कर दिया। साथ ही सभी मोबाइल की जांच शुरू की गई। इसमें पता चला कि चकरभाठा क्षेत्र से 50 से अधिक लोगों ने अपने पुराने मोबाइल का ईएमआइ नंबर बदल दिया है। शिकायत पर एसएसपी दीपक झा ने साइबर सेल के निरीक्षक कलीम खान को कार्रवाई के निर्देश दिए। इस पर साइबर सेल की टीम ने फ्लिपकार्ट कंपनी से संपर्क कर मामले में और जानकारियां जुटाई। तकनीकि जांच में पता चला कि मुंगेली के सिंधी कालोनी में रहने वाला अजय दावड़ा अपने साथियों के साथ धोखाधड़ी में शामिल है। इस पर पुलिस की टीम ने आरोपित को हिरासत में लेकर पूछताछ की।

इसमें पता चला कि अजय अपने साथियों, दुर्गेश कुमार वर्मा(31) निवासी पथरिया, अनमोल सोनकर(33) निवासी दाउपारा मुंगेली व प्रमोद पाण्डेकर(23) दाउपारा मुंगेली के साथ मिलकर धोखाधड़ी कर रहा है। पुलिस ने आरोपित युवकों को गिरफ्तार कर लैपटाप और 152 मोबाइल जब्त किया है।

Posted By: sandeep.yadav