आधा दर्जन कर्मचारी शहर में अटैच, सीएससी में नहीं मिल रहा इलाज

ग्रामीण क्षेत्रों में इलाज के लिए लोगों को भटकना पड़ रहा।

Updated: | Mon, 17 Jan 2022 03:00 PM (IST)

बिलासपुर। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में अब मरीजों को उपचार कराने में काफी समस्याओं का समाना करना पड़ रहा है। क्योकि यहां कोई स्वास्थ्य कर्मचारी काम करना नहीं चाहता जिसके चलते वो बड़े अधिकारियों से एप्रोच लगवाकर ग्रामीण क्षेत्र के बजाए शहर के अस्पतालों में अटैच हो रहे हैं। इसके कारण सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में स्टाफ की कमी हो चुकी है। कर्मचारी नहीं होने के कारण मरीजों को बेहतर उपचार की सुविधा भी नहीं मिल पाती जिससे उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

जिले में अटैचमैंट का खेल तो सालों से चल रहा है। इसकी शिकायत भी कई बार हुई जिसके बाद मंत्रालय स्तर से निर्देश दिए गए कि अटैचमैंट समाप्त कर कर्मचारियों से मूल स्थान पर ही काम लिया जाए लेकिन बड़े पदों पर बैठे अधिकारियों ने ऐसा नहीं किया। स्वास्थ्य विभाग में ही कोरोना संक्रमण काल के दौरान कई सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ऐसे है जहां ताला लटक रहें है।

इसका कारण है। कर्मचारियों की कमी। रतनपुर के समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ही स्वीकृत पदों के छह डाक्टर और कर्मचारी रतनपुर की जगह जिला अस्पातल, सीएमएचओ कार्यलय और अन्य शहरी स्वास्थ्य केंद्रों में कार्यरत है। रतनपुर में बिना काम करें ही वहां से वेतन ले रहें है। अब वहां समस्या ये हो गई है कि पहले से स्वीकृत पद भरे होने के कारण नए कर्मचारी नहीं मिल पा रहें है।

जबकि शहर के जिला अस्पताल से ज्यादा मरीज रतनपुर के अस्पातल में इलाज के लिए आते है। सड़क हादसा या डिलीवरी केस आस पास के 20 से 25 गांव के 30 हाजर से ज्यादा ग्रामीण इसी स्वास्थ्य केंद्र पर आश्रित है। लेकिन यहां कर्मचारियों की कमी होने के कारण अब यहां मरीजों को उपचार मिलने में समस्या हो रहा है।

रात के समय बढ़ जाती है समस्या

रतनपुर स्वास्थ्य केंद्र के कर्मचारियों की शहर में अटैंचमेंट के कारण यहां पहले ही स्टॉफ कम है। अब यहां रात में नाइट ड्यूटी के लिए भी कर्मचारी नहीं है। जिसके कारण रात को सडक दुर्घटना और अन्य गंभीर मरीजों के उपचार में समस्या हो रही है। ऐसे में प्रारंभिक इलाज के बाद मरीज को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से सिम्स के लिए रेफर कर दिया जाता है।

ये कर्मचारी शहर में हो गए अटैच

- डा. अनिल श्रीवास्तव समुदायिक स्वास्थ्य रतनपुर से सीएमएचओ आफिस बिलासपुर।

- शिप्रा जेनिफर स्टाफ नर्स सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रतनपुर से एमसीएच 10 बेड बिलासपुर।

- अजीता पांडेय सामुदायिक स्वास्थ्य रतनपुर से लिंगियाडीह बिलासपुर।

- भानुप्रताप राठौर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रतनपुर से सीएमएचओ कार्यालय बिलासपुर।

- शिबू तिवारी चौकीदार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रतनपुर से जिला चिकित्सालय बिलासपुर।

- भारती साहू उप स्वास्थ्य केंद्र जाली से रानीगांव।

Posted By: anil.kurrey