कार में कर रहे थे गांजा की तस्करी, तीन पकड़ाए

Updated: | Sun, 28 Nov 2021 10:22 AM (IST)

बिलासपुर। तोरवा पुलिस ने शनिवार की दोपहर लालखदान में कनोई पेपर मिल के पास घेराबंदी कर गांजा तस्करी कर रहे तीन लोगों को पकड़ा है। पुलिस ने तस्करों की कार की सीट के नीचे से 22 किलो गांजा जब्त कर एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की है। आरोपित युवकों से पूछताछ में तस्करी में शामिल और भी लोगों के नाम सामने आ सकते हैं।

तोरवा थाने में पदस्थ एसआइ रमेश पटेल ने बताया कि शनिवार की दोपहर सूचना मिली कि कुछ लोग कार से गांजा की तस्करी कर रहे हैं। तस्कर शहर में गांजा खपाने के लिए मस्तूरी की ओर से आ रहे हैं। इस पर पुलिस ने लालखदान में कनोई पेपर मिल के पास घेराबंदी की। इसी बीच एक कार मस्तूरी की ओर से आ रही थी। मुखबिर के इशारे पर पुलिस ने कार को रोक लिया।

कार को देवरीखुर्द के सबहिनिया मंदिर के पास रहने वाला दिनेश दमाहे(36) चला रहा था। वह मूल रूप से महाराष्ट्र के गोंदिया जिला अंतर्गत फूलचुर आमाटोली का रहने वाला है। वहीं, कार में सूरज सिंह(25) निवासी बालपुर जिला जांजगीर-चांपा व अजय चक्रवर्ती(32) निवासी बन्न्ाक चौक सिरगिट्टी भी बैठा हुआ था।

पूछताछ के दौरान युवक पुलिस को गुमराह करने लगे। इस पर पुलिस ने कार की तलाशी ली। कार की सीट के नीचे गांजा छिपाकर रखा था। पुलिस ने 22 किलो गांजा, चार हजार 100 स्र्पये नकद व मोबाइल जब्त कर आरोपित युवकों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की है।

मोबाइल से मिल सकता है साथियों का सुराग

पुलिस ने आरोपित युवकों का मोबाइल जब्त कर लिया है। इसकी जांच की जा रही है। तस्करों के मोबाइल से शहर में गांजा खपाने वालों की जानकारी मिल सकती है। इसके साथ ही गांजा सप्लाई करने वालों की जानकारी मोबाइल से मिल सकती है। वहीं, पुलिस आरोपित युवकों से उन्हें गांजा उपलब्ध कराने वालों की भी जानकारी ले रही है।

Posted By: sandeep.yadav