अतिरिक्त धान लिया तो समिति के संस्था प्रबंधक होंगे जिम्मेदार

Updated: | Thu, 09 Dec 2021 08:00 AM (IST)

बिलासपुर। जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विजय केशरवानी ने घुटकू में धान खरीदी घोटाला फूटने के बाद बुधवार को कलेक्टर डा. सारांश मित्तर से धान खरीदी की व्यवस्था को लेकर मुलाकात की। जिलाध्यक्ष विजय ने बताया कि सेवा सहकारी समिति के संचालक मंडल में अधिकांश समितियां भाजपा समर्थित हैं। संचालक मंडल के सदस्यों के द्वारा भी धान खरीदी में व्यवधान खड़ी करने का काम किया जा रहा है। इनकी मंशा साफ है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना के क्रियान्वयन में व्यवधान खड़ी करने का काम किया जा रहा है।

विजय ने कलेक्टर से मांग कि धान खरीदी में अनावश्यक व्यवधान खड़ी करने वाली समिति पर कड़ी कार्रवाई की मांग की। साथ ही कहा कि किसी समिति में किसानाें से अतिरिक्त धान खरीदी या तौल के नाम से पैसे की मांग जाती है तो समिति के संस्था प्रबंधक पर जिम्मेदारी तय करते हुए कड़ी कार्रवाई की जाए। विवादित और जिस धान खरीदी केंद्र में लगातार शिकायतें मिल रही हैं वहां राजपत्रित अधिकारियों के माध्यम से निगरानी कराने का आग्रह किया है।

केंद्र सरकार पर लगाए आरोप

विजय ने केंद्र सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि आखिर क्या कारण है कि केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ से उसना चावल नहीं ले रही है। राज्य में पैदा होने वाले कुल धान का 45 प्रतिशत उसना किस्म का है। केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ को बारदाना देने में भी भेदभाव व असहयोग कर रही है। राज्य को धान खरीदी के लिए 5.25 लाख गठान बारदाने की आवश्यकता है। मगर इस वर्ष केंद्र ने 2.14 लाख गठान बारदानों की स्वीकृति दी है।

जिसका एडवांस पैसा जमा करने के बावजूद भी छत्तीसगढ़ को अभी मात्र 86 हजार 856 गठान बारदाने ही उपलब्ध कराए गए हैं। भाजपा नेता उसना और बारदाने मामले में केंद्र से राज्य के हितों पर अपनी बात रखने का पहले साहस दिखाएं। तब राज्य हित की बात करें। भाजपा नेताओं के बयानबाजी से स्पष्ट हो रहा कि केंद्र की साजिश में छत्तीसगढ़ के भाजपा नेता भी शामिल हैं, जिसे प्रदेश की जनता और गरीब किसान कभी माफ नहीं करेंगे।

धान खरीदी जिला स्तरीय किसान सहयोग समिति

विजय केशरवानी, विजय पांडेय, वाणी राव, अर्जुन तिवारी, रश्मि सिंह, शैलेष पांडेय, बैजनाथ चंद्राकर, अटल श्रीवास्तव, प्रमोद नायक, अरुण सिंह चौहान, रामशरण यादव, कमला मनहर, इन ग्रिड मैक्लाउड, दिलीप लहरिया, चंद्र प्रकाश बाजपेई, जगजीत सिंह मक्कड़, राजेंद्र शुक्ला, विभोर सिंह, राजेंद्र साहू, भुवनेश्वर यादव, बिरझे राम सिंगरोल, अनिल टाह, राजेंद्र चावला, रमेश कौशिक, विष्णु यादव, अभय नारायण राय, राजकुमार अंचल, रविंद्र सिंह, संतोष कौशिक, राकेश शर्मा, अंबालिका साहू, अनिल सिंह चौहान।

Posted By: Yogeshwar Sharma