HamburgerMenuButton

Lockdown In Bilaspur: लाकडाउन में गरीबों को राहत का पैकेज

Updated: | Sat, 08 May 2021 06:20 AM (IST)

बिलासपुर। Lockdown In Bilaspur: कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर खतरनाक रूप लेती जा रही है। संक्रमण और मौत का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। जिले में बीते 22 दिनों से लाकडाउन चल रहा है। शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में काम ठप पड़ा हुआ है। कारखानांे की चिमनियां जिस रफ्तार से धुआं उगलना चाहिए नहीं उगल रही हैं। औद्योगिक परिसर में श्रमिकों का टोटा हो गया है। तीन हजार के करीब श्रमिक काम कर रहे हंै।

गांव में ग्रामीणों को रोजगार देने के लिए केंद्र सरकार ने मनरेगा के कार्यों की स्वीकृति दे दी है। यही कारण है कि संक्रमण के मौजूदा दौर में कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन करते हुए श्रमवीर तालाब गहरीकरण के साथ ही सड़क बनाने व समतलीकरण में पसीना बहा रहे हैं।

तखतपुर, बिल्हा, मस्तूरी व कोटा ब्लाक के अंतर्गत आने वाले ग्रामीण क्षेत्रों में 14 हजार 610 से अधिक श्रमवीर काम कर रहे हैं। लाकडाउन के दौरान गरीबों को राज्य सरकार ने एक और राहत दी है। दो महीने का चावल एकमुश्त मुफ्त दिया जा रहा है।

विकास खंड ग्राम पंचायतें स्वीकृत कार्य श्रमवीरों की संख्या

कोटा 36 148 1655

तखतपुर 38 147 4761

मस्तूरी 31 94 2259

बिल्हा 90 396 5936

ये हैं सक्रिय जाब कार्डधारक

ब्लाक सक्रिय जाब कार्डधारक

0 बिल्हा 84467

0 कोटा 72180

0 मस्तूरी 91101

0 तखतपुर 73902

जिले की स्थिति

00 इनकी रसोई रहेगी भरेगी- 3,90,843

0 चावल की आपूर्ति- 2,58423.61 क्विंटल

0 प्राथमिक राशन कार्डधारकों की संख्या- 2,97,832

0 इनको मिलेगा चावल- 1,95,523 क्विंटल

0 अंत्योदय राशन कार्डधारकों की संख्या- 88,413

0 इनको मिलेगा चावल- 61876.5 क्विंटल

0 अन्न्पूर्णा राशन कार्डधारकों की संख्या- 211

0 इनको मिलेगा चावल- 147.7 क्विंटल

0 निराश्रित कार्डधारकों की संख्या- 3,774

0 इनको मिलेगा चावल- 754.2 क्विंटल

0 नि:शक्तजन कार्डधारकों की संख्या- 613

0 इनको मिलेगा चावल- 122.2 क्विंटल

Posted By: Yogeshwar Sharma
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.