HamburgerMenuButton

Mungeli News: मुंगेली कलेक्टर का फरमान- आरक्षित वर्ग के विद्यार्थियों को 31 मार्च तक जारी करें ये प्रमाण पत्र

Updated: | Sun, 07 Mar 2021 05:48 PM (IST)

बिलासपुर। Mungeli News: कलेक्टर पीएस एल्मा ने जिला कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभा कक्ष में साप्ताहिक समय सीमा की बैठक ली। लंबित प्रकरणों के संबंध में अधिकारियों से वन-टू-वन जानकारी प्राप्त की और निराकरण के संबंध में संबंधितों को सख्त निर्देश दिए। बैठक में उन्होने कहा कि कोविड -19 वैश्विक महामारी के संक्रमण से बचाव एवं सुरक्षा के लिए जन जागरूकता आवश्यक है।

इस संबंध में संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। प्रथम चरण में स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास व राजस्व विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों को किये गये टीकाकरण की प्रगति की जानकारी प्राप्त की और छूटे हुए स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास व राजस्व विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों को निर्धारित अवधि में टीकाकरण कराने के आवश्यक निर्देश दिए।

एक मार्च से वरिष्ठ नागरिको 60 वर्ष से अधिक व्यक्तियों और चिन्हाकित 20 बीमारियों स्थितियों से ग्रसित 45 से 59 वर्ष के को-मार्विड व्यक्तियों को टीकाकरण का कार्य प्रारंभ हो गया है। चिन्हांकित स्वास्थ्य केंद्रो में टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है। टीकाकरण हेतु समस्त दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए टीकाकरण कराने के निर्देश दिए।

इस संबंध में टीकाकरण के लिए प्रत्येक घर का सर्वे करने हेतु कार्य योजना बनाने और संबंधित अधिकारियों को नियमित रूप से मानिटरिंग करने के निर्देश दिए। कलेक्टर एल्मा ने अनुसूचित जाति, जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों के लिए जारी जाति, निवास एवं आमदनी प्रमाण पत्र की प्रगति की समीक्षा की। इन वर्गो के विद्यार्थियों के लिए 31 मार्च तक जाति, निवास एवं आमदनी प्रमाण पत्र बनाये जाएंगे। जिला शिक्षा अधिकारी, आदिवासी विकास विभाग के सहायक आयुक्त और राजस्व विभाग के अधिकारियों को आवश्यक और सख्त निर्देश दिए।

कलेक्टर एल्मा ने आगामी मानसून में पौधारोपण की तैयारी संबंध में जानकारी प्राप्त की और नर्सरी तैयार करने में स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा उत्पादित वर्मी कम्पोस्ट खाद का उपयोग करने के निर्देश दिए। ताकि गोठानों से जुड़े स्व सहायता समूहो को प्रोत्साहन मिल सके। राज्य शासन के महत्वाकांक्षी सुराजी गांव योजना के तहत नरवा उपचार हेतु आनलाईन प्रशिक्षण के संबंध में जानकारी प्राप्त की और आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर एल्मा ने गोठान से संबंधित एक्टिविटी के बारे में भी जानकारी प्राप्त की और सभी एक्टिविटी को गोठान परिसर में ही संपन्न् कराने के निर्देश दिए।

उपार्जन केंद्रो में भण्डारित धान की सुरक्षा आदि के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की। वन अधिकार अधिनियम के तहत प्राप्त पट्टा धारकों का भूईया पोर्टल में एंट्री की प्रगति की जानकारी प्राप्त की और आवश्यक निर्देश दिए। भूतपूर्व एवं वर्तमान पंचायत पदाधिकारियों से लंबित वसूली के संबंध में जानकारी प्राप्त की और वसूली के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर एल्मा ने मुंगेली जिले के ग्राम फास्टरपुर सेतगंगा में महाविद्यालय भवन निर्माण की प्रगति की जानकारी प्राप्त की। महाविद्यालय भूमि का सीमांकन करने व महाविद्यालय के लिए आरक्षित भूमि में किये गये अतिक्रमण को शीघ्र हटाने के निर्देश दिए।

पशु चिकित्सा विभाग द्वारा पशुओं में किये जा रहे टेकिंग, कृत्रिम गर्भाधान के संबंध में जानकारी प्राप्त की। पशु पालक कृषकों को क्रेडिट कार्ड जारी करने आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। सांसद और विधायक मद से स्वीकृत, निर्मित और अपूर्ण निर्माण कार्यो के संबंध में जानकारी प्राप्त की और अपूर्ण निर्माण कार्यो को यथा शीघ्र पूरा करने के लिए संबंधित अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए।

इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्य पालन अधिकारी रोहित ब्यास, अपर कलेक्टर राजेश नशीने, संयुक्त कलेक्टर तीर्थराज अग्रवाल, वनमंडलाधिकारी रामावतार दुबे, सभी अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, विभिन्न् विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी, सभी जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और नगरीय निकायों के सभी मुख्य नगर पालिका अधिकारी मौजूद थे।

Posted By: sandeep.yadav
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.