HamburgerMenuButton

Railway News: निर्भया से बचकर रेलवे स्टेशनों से अब नहीं निकल पाएंगे बदमाश

Updated: | Sun, 07 Mar 2021 07:00 AM (IST)

बिलासपुर। Railway News: दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन के 16 स्टेशनों पर सीसीटीवी से निगरानी की जाएगी। रेलवे बोर्ड से इसके लिए निर्भया फंड से 6.46 करोड़ रुपये स्वीकृत हुए हैं। बड़े शहरों के बदमाशों के छोटे स्टेशनों पर उतरकर लापता हो जाने के मामलों पर नियंत्रण के लिए यह व्यवस्था की जा रही है। जिन स्टेशनों को चिन्हित किया गया है, वहां कैमरे नहीं लगे हैं। जहां लगे हैं वहां एक या दो कैमरे हैं।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन के अंतर्गत तीन रेल मंडल बिलासपुर, रायपुर व नागपुर आते हैं। तीनों मंडलों को मिलाकर अलग-अलग श्रेणी के 318 रेलवे स्टेशन हंै। सभी स्टेशनों में सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम कर पाना आरपीएफ व जीआरपी के लिए मुश्किल है। आरपीएफ में बल की भारी कमी है। इसे देखते हुए सीसीटीवी कैमरे पर पूरा फोकस किया जा रहा है। जिन स्टेशनों में कैमरे लगाने की योजना है उनमें छत्तीसगढ़ के नौ स्टेशन, मध्य प्रदेश के चार और महाराष्ट्र के तीन स्टेशन शामिल हैं।

इन स्टेशनों में लगेंगे कैमरे

अकलतरा, अंबिकापुर, चांपा, डोंगरगढ़, दुर्ग, कोरबा, पेंड्रारोड, रायगढ़, राजनांदगांव, अनूपपुर, छिंदवाड़ा, शहडोल, उमरिया, चांदाफोर्ट, इतवारी व रामटेक।

केस-1: चार दिसंबर 2020 को राजेंद्रनगर-दुर्ग साउथ बिहार एक्सप्रेस में झारसुगुड़ा से दुर्ग तक सफर कर रहे यात्री ओमप्रकाश चौधरी को चांपा रेलवे स्टेशन में चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाया और आरोपित 700 रुपये नकद, सोने की चेन, मोबाइल व एटीएम समेत 60 हजार रुपये का सामान लेकर फरार हो गए।

केस-2: 19 फरवरी 2021 को भोपाल-दुर्ग अमरकंटक एक्सप्रेस के जनरल कोच में परिवार के साथ सफर कर रहे बिलासपुर के चांटीडीह निवासी सनी कछवाहा का टेंगनमाडा स्टेशन में रात ढाई बजे किसी ने मोबाइल चोरी कर लिया। यात्री ने इस घटना की रिपोर्ट बिलासपुर पहंुचने के बाद जीआरपी थाने में दर्ज कराई थी।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के चिन्हित स्टेशनों में सीसीटीवी लगाने का प्रविधान किया है। इससे स्टेशन परिक्षेत्र के अलावा महिला यात्रियों की सुरक्षा और भी मजबूत होगी।

साकेत रंजन

सीपीआरओ, दपूमरे जोन बिलासपुर

Posted By: Yogeshwar Sharma
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.