सिंधी समाज को एक करने के लिए निकलीं सपना कुकरेजा पहुंचीं छत्तीसगढ़

Updated: | Thu, 02 Dec 2021 02:53 PM (IST)

बिलासपुर। भारत में राज्य के लोगों से मिलने और समाज को एकता के लिए जागरूक करने की कोशिश में राष्ट्रीय सिंधी मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. सपना कुकरेजा जुटी हुई हैं। इसी सिलसिले में वे छत्तीसगढ़ प्रवास पर हैं। उन्होंने यहां समाज के युधिष्ठिर लाल, लाल साईं, कृष्ण साई, बलराम साई (चकरभाठा), अनंतपुरी साई, देवपुरी अम्मा, प्रेमप्रकाशी हेमंत साई (जयपुर), रवि साई (गोरखपुर), सहेर वारा साई (अहमदाबाद) गुरुओं का आशीर्वाद लिया।

हर स्टेट में राष्ट्रीय सिंधी मंच रजिस्टर्ड द्वारा हर राज्य में टीम बनाने का और समाज को एकजुट करने का सपना लेकर डाक्टर सपना कुकरेजा ने अपनी यात्रा शुरू की है। राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र मध्य प्रदेश एवं छत्तीसगढ़ इन सभी जगह के लीडर कार्यकर्ताओं से मिलकर समाज की बिगड़ती दशा को सपना कुकरेजा बेहतर करने की कोशिश कर रही हैं।

इसमें राजस्थान से रामचंद तोलानी व टीम अहमदाबाद से भानु भाई, नरेश रवाणी, दीपा टेकवानी, के.एल. वासवानी, ज्योति फतनानी, एवम् टीम कोटा राजस्थान से विमल परयानी, अशोक झमटानी एवं मध्य प्रदेश भोपाल दर्शन कुकरेजा ,आनंद साबधानी, नरेश गांगुली, सन्नी टेकवानी, हरमेश सबनानी, मुस्कान हीरा नानंदानी, दीपेश आडवाणी एवं छत्तीसगढ़ से प्रेम सोनी, मुकेश थवानी, राजकुमार मंजर ,दीपक माखीजा, सुनील रंगलानी, मुकेश बजाज, अजय, मुकेश हसीजा, किशोर अरोरा, मनोज आहूजा, सूरज जेठानी, संतोष गुरनानी, रवि नेचरानी, अनिल हेमानी, विजय चेतवानी टीम बनाई, और सभी को डा. सपना कुकरेजा ने समाज अपने स्तर पर कार्य करते हुए समाज सेवियों को अपने तरीके से जमीनी स्तर पर कार्य कर राष्ट्रीय सिन्धी मंच की रूपरेखा से अवगत कराया कि कैसे राजनीति और समाज को एकजुट करें।

डा. सपना कुकरेजा ने बताया कि दिल्ली और अन्य राज्यों के दौरे आगामी लीडर कार्यकर्ताओं से बहुत जल्द मिलकर उन्हें साथ एक माला में पिरोकर समाज को एक नई दिशा देंगी और अपने पति के सपने को पूरा करेंगी। इसमें स्व. राजकुमार कुकरेजा माइमोरियल सोसायटी के तहत सभी समाज को जोड़कर एक नए कीर्तिमान स्थापित करना ही लक्ष्य होगा। इसमें अश्वनी कुमार मिश्रा, हर्षित खंडेलवाल, सुनील जिगयसी, करन गर्ग, प्रिया मंगलानी,सोनिया निंजनी, रिंकी अरोड़ा, ममता, मधु सिंह, रवि माधवानी व अन्य सभी सदस्य शामिल हैं।

Posted By: sandeep.yadav