HamburgerMenuButton

Vaccination in Bilaspur: टीकाकरण के उत्साह से लबरेज बिलासपुर के युवा, नईदुनिया से कही ये बात

Updated: | Tue, 22 Jun 2021 07:00 AM (IST)

बिलासपुर। Vaccination in Bilaspur: टीकाकरण की रफ्तार पकड़ने के बाद युवा बड़ी संख्या में केंद्रों में पहुंच रहे हैं। इस दौरान नईदुनिया से चर्चा में भी उनका उत्साह देखते ही बन रहा था। सभी ने औरों को भी इसमें बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने की अपील करते हुए कहा कि इसी से कोरोना का खात्मा संभव है।

अब पूरे परिवार वालों को लगेगा टीका

आंबेडकर स्कूल मगरपारा में दोपहर एक बजे सौरभ यादव टीका लगवाने पहुंचे, जहां उन्हें सामान्य भीड़ मिली। ऐसे में उन्हें समझ आ गया कि अब पर्याप्त मात्रा में टीका आ चुका है। अब आसानी से लगेगा। इसके बाद सौरभ ने टीका लगवाने के दौरान कहा कि अब टीकाकरण की व्यवस्था पूरी तरह से सही हो गई है। अब परिवार के सभी सदस्यों को टीका लग सकेगा।

नहीं हुई किसी प्रकार की परेशानी

बर्जेस स्कूल में दोपहर दो बजे टीका लगवाने के लिए रितेश यादव पहुंचे। जहां भीड़ देखकर रितेश को लगा कि आज टीका नहीं लग पाएगा। लेकिन, जैसे ही केंद्र के अंदर पहुंचे, वैसे ही उसे टीका लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई। यह देखकर रितेश हैरान हो गए कि इतना जल्दी कैसे टीका लग रहा है। इसके बाद रितेश ने कहा कि अब व्यवस्था सही हो गई है। टीका लगवाने में किसी तरह की परेशानी नहीं हुई।

जाते ही लगी वैक्सीन, सही है व्यवस्था

बालमुकुंद स्कूल में वैक्सीन लगवाने दोपहर तीन बजे सूरज यादव पहुंचे। जहां पर एक साथ 10 लोगों को टीका लगवाने के लिए रोक कर रखा गया था। दसवें के रूप में उनके पहुंचने के बाद तत्काल टीका लग गया और आधे घंटे तक निगरानी में रखा गया। अब टीका लगवाना बेहद आसान हो गया है। आने वाले दिनों में अपने परिवार व दोस्तों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित करने की बात उन्होंने कही है, ताकि महामारी को खत्म किया जा सके।

महामारी को खत्म करना है जरूरी

मगरपारा टीकाकरण केंद्र में दोपहर 12 बजे टीका लगाने पहुंची रूपा भारती ने कहा कि केंद्र आने से पहले पता चला कि बहुत ही आसानी से टीका लग रहा है। वैसे ही मैं टीका लगवाने के लिए तैयार हो गई और सीधे केंद्र में पहुंची। यहां 15 मिनट इंतजार करने के बाद टीका लगाया गया। महामारी को खत्म करने के लिए टीका लगाना जरूरी है। सरकार ने अब पर्याप्त मात्रा में टीके की व्यवस्था कर दी है।

सुबह से पहुंच गई थी केंद्र

देवकीनंदन स्कूल टीकाकरण केंद्र में टीका लगवाने के लिए पहुंची खुशबू चौहान ने बताया कि इस दिन का मैं पहले से इंतजार कर रही थी। इसी वजह से केंद्र के खुलने के साथ ही सुबह 10 बजे टीका लगवाने के लिए पहुंच गई। बड़ी आसानी से टीका लग गया। अब मैं अपने सभी मित्रों को इस केंद्र में टीका लगवाने के लिए भेजूंगी। ताकि इस महामारी को जड़ से खत्म किया जा सके।

Posted By: sandeep.yadav
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.