Wildlife Counting in Achanakmar: बिलासपुर में 61 वालियंटर्स का प्रशिक्षण, बता रहे कैसे करनी है वन्य प्राणियों की गणना

Updated: | Sun, 24 Oct 2021 01:52 PM (IST)

बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)।Wildlife Counting in Achanakmar: अचानकमार टाइगर रिजर्व के शिवतराई में सुबह 11 बजे से 61 वाटियंटर्स को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसमें वन्य प्राणियों की गणना कैसे करनी है। ट्रेल लाइन क्या और इसमें कितनी किमी तक चलना पड़ता है। कागज के बजाय इस बार मोबाइल एप का उपयोग किया जा रहा है। उन्हें इस एप की जानकारी भी दी गई। अचानकमार टाइगर रिजर्व में 25 अक्टूबर से वन्य प्राणियों की गणना शुरू हो जाएगी। इस बार टाइगर रिजर्व प्रबंधन बाहरी लोगों (वालियंटर्स) की मदद ले रहा है।

खासकर ऐसे जो वन्य प्राणी प्रेमी है। प्रबंधन की यह पहल कारगर भी साबित हो रही है। बड़ी संख्या में वालियंटर्स गणना में सहयोग करने के लिए आए हैं। चूंकि यह उनका पहला अनुभव है। इसलिए टाइगर रिजर्व प्रबंधन ने उन्हें प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया। रविवार की सुबह 10 बजे सभी वालियंटर्स को शिवतराई में उपस्थिति दर्ज कराने का निर्देश दिया। उनके पहुंचने के बाद सुबह 11 बजे से प्रशिक्षण शुरू हुआ।

डिप्टी डायरेक्टर सत्यदेव शर्मा द्वारा उन्हें गणना की विधि से अवगत कराया गया। प्रशिक्षण के दौरान वनकर्मी भी थे। उन्हें जानकारी दी। चूंकि इस बार कागज में जानकारी नहीं भरनी है। केवल मोबाइल एप का इस्तेमाल करना है। इसलिए प्रशिक्षण के दौरान उन्हें इसकी जानकारी भी दी गई। यह एप आनलाइन व आफलाइन दोनों का काम करता है। सीधे मोबाइल में जानकारी भरने के बाद यह सेव हो जाएगा।

उन्हें यह भी बताया गया कि पहले तीन केवल मांसाहारी वन्य प्राणियों की गिनती है। इसके लिए पुरानी विधि ट्रेल लाइन पर चलना होगा। इस दौरान वन्य प्राणियों का पदचिन्ह, मल, अवशेष व पेड़ों पर खरोंच आदि ढूंढना होगा। साथ ही यह जहां भी मिलेंगे उस जगह को भी एप में तत्काल लिखना होगा।

Posted By: anil.kurrey