Chhattisgarh Politics: छत्‍तीसगढ़ की राजनीति में एक बार फिर टूटी शब्दों की मर्यादा, भाजपा-कांग्रेस में वार-पलटवार

Updated: | Thu, 02 Sep 2021 09:02 PM (IST)

Chhattisgarh Politics: जगदलपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। छत्‍तीसगढ़ की राजनीति में एक बार फिर शब्दों की मर्यादा टूटती नजर आई। गुरुवार को भाजपा के तीन दिवसीय चिंतन शिविर के बाद प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी ने पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए ऐसा बयान दे दिया कि कांग्रेस को भी शब्दों की मर्यादा पर पलटवार करने का मौका मिल गया। राजनीतिक वाद-विवाद में राजनेताओं द्वारा ऐसे शब्दों के प्रयोग पर जनता को ही चिंतन-मनन करना होगा।

भाजपा के तीन दिवसीय चिंतन शिविर के अंतिम दिन पार्टी कार्यकर्ताओं के संभागीय सम्मेलन में राष्ट्रीय महामंत्री व छत्तीसगढ़ की प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी के बयान से राजनीति गरमा गई है। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता यदि पीछे मुड़कर थूकेंगे तो उसमें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनका पूरा मंत्रिमंडल बह जाएगा। कार्यकर्ताओं को इस संकल्प के साथ काम करना पड़ेगा। आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा जरूर सत्ता में आएगी।

दरअसल, पुरंदेश्वरी छत्तीसगढ़ में भाजपा की वापसी के लिए रणनीति तय करने जगदलपुर में आयोजित तीन दिवसीय चिंतन शिविर में पहुंची हैं। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वर्ष 2023 में भाजपा को प्रदेश की सत्ता में लाने की जिम्मेदारी आप सब की है। हम मानते हैं कि कार्यकर्ता ही पार्टी की रीढ़ हैं। हम यहां नेता बनकर बैठे हैं तो यह केवल और केवल कार्यकर्ताओं के ताकत के कारण।

हम कार्यकर्ताओं से भाजपा की सत्ता में वापसी का संकल्प लेकर काम करने का आग्रह करते हैं। उनके इस बयान पर कार्यकर्ताओं ने जमकर तालियां बजाई, लेकिन सम्मेलन समाप्त होने पर मौजूद नेता और कार्यकर्ता पुरंदेश्वरी के बयान पर चर्चा करने से बचते रहे। सभा में पूर्व सीएम डा. रमन सिंह ने भी हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस की वादाखिलाफी से जनता में असंतोष व्याप्त है। सभा में भाजपा के छत्तीसगढ़ के सहप्रभारी नितिन नबीन, पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह सहित कई बड़े राष्ट्रीय व प्रदेश के पदाधिकारी मंच पर मौजूद थे।

कांग्रेस सरकार को घेरने रोडमैप तैयार

पुरंदेश्वरी ने कहा कि चिंतन शिविर में भाजपा ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार को घेरने का रोडमैप तैयार कर लिया है। प्रदेश सरकार हर मोर्चे पर फेल है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में सरकार जनता से किए वादे पूरे नहीं कर पा रही है। भाजपा इसे मुद्दा बनाकर जनता के बीच जाएगी।

Posted By: Kadir Khan