janjgir champa news: लक्ष्य को हासिल करने दृढ़ इच्छाशक्ति से निरंतर मेहनत करते रहें

Updated: | Sat, 04 Dec 2021 10:55 AM (IST)

जांजगीर चांपा। अन्तर्राष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस पर समाज कल्याण विभाग, राजीव गांधी शिक्षा मिशन, सर्व शिक्षा अभियान के तत्वधान में जिले के दिव्यांगजनों के लिए दो दिवसीय जिलास्तरीय खेलकूद, सांस्कृतिक प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। खेलकूद, सांस्कृतिक सेमीनार के समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह में जिला पंचायत अध्यक्ष यनिता यशवंत चन्द्रा मुख्य अतिथि थीं। कार्यक्रम की अध्यक्षता कलेक्टर जितेन्द्र कुमार शुक्ला ने की। विशिष्ट अतिथि लखनलाल साहू एवं रामबाई सिदार जिला पंचायत सदस्य उपस्थित थीं।

जिला पंचायत अध्यक्ष ने प्रतिभागियों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि "मन के हारे हार है मन के जीते जीत"। उन्होंने कहा कि दिव्यांग भाई-बहनें अपने आप को कमजोर न समझें। उन्होंने कहा कि दिव्यांगजन मन से मजबूत होकर अपनी रुचि के क्षेत्र में निरंतर मेहनत करते रहें तो सफलता अवश्य मिलेगी। कलेक्टर ने कार्यक्रम में उपस्थित बच्चे और युवा दिव्यांगों से सहज भाव से मिलकर उन्हें प्रोत्साहित करते हुए कहा कि "दिव्यांगता अभिशाप नहीं, इत्तफाक है, उन्होंने कहा कि प्रत्येक रचना ईश्वर की सर्वोत्तम कृति है।

उन्होंने कहा कि कई "दिव्यांग जनों ने अपनी दृढशक्ति और संकल्प से सभी क्षेत्रों में विशिष्ट उपलब्धियां प्राप्त करते हुए समाज के समक्ष दृष्टांत और आदर्श प्रस्तुत किया है। उन्होंने उदाहरण देते हुए बताया कि दिव्यांग होते हुए भी" प्रांजल पाटील, (दृष्टिहीन), आईएएस सुहास एल वाई (दृष्टिहीन) आईएएस द्वारा संघ लोक सेवा की परीक्षा पास कर भारतीय प्रशासनिक सेवा में अपने कर्तव्यों का उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी दिव्यांगजन निरंतर अपनी रूचि के कार्य क्षेत्र में कड़ी मेहनत कर समाजोपयोगी बने।

कलेक्टर ने कहा कि शासन द्वारा दिव्यांगों के कल्याण के लिए अनेक योजनाएं संचालित की जा रहीं हैं । उन्होंने पात्रता अनुसार इन योजनाओं का लाभ लेने की अपील की। उपसंचालक समाज कल्याण टीपी भावे ने कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी देते हुए प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। दिव्यांग जनों के प्रति समाज में सम्मान एवं सकारात्मक दृष्टिकोण विकसित करने के लिए जागरूकता शिविर तथा दिव्यांगजनों के रोजगार, स्वरोजगार स्वावलंबन विषय पर सेमीनार का आयोजन किया गया।

"आजादी का अमृत महोत्सव" सप्ताह अन्तर्गत इंदिरा गांधी राष्ट्रीय निश्क्तजन पेंशन योजना के हितग्राहियों को ग्रामीण विकास विभाग के विभिन्ना योजनाओं में प्राथमिकता देने कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर आदर्श दिव्यांग एवं तृतीय लिंग सेवा संस्थान छत्तीसगढ़ के प्रदेशाध्यक्ष कैलाश जांगडे और जिलाध्यक्ष अरविंद कुमार, छत्तीसगढ़ निशक्तजन अधिकार सहयोग समिति के जिला अध्यक्ष , एल्डरमैन इकबाल अंसारी एवं छत्तीसगढ़ दिव्यांग कल्याण संघ के महासचिव प्रताप गोंड द्वारा संगठित एवं समन्वित प्रयास कर कार्यक्रम को सफल बनाया गया।

प्रतियोगिता को सफल बनाने में व्यायाम शिक्षक प्रीतम गढ़ेवाल , रामकृष्ण परमहंस तिवारी, चन्द्रशेखर महतो एवं पूरे कार्यक्रम के दौरान दिव्यांगों के उत्साहवर्धन के लिए क्रिकेट कोच ईशू हाशमी ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। कार्यक्रम का संचालन दीपक यादव द्वारा किया गया।

रोजगार एवं स्वरोगार विषय पर सेमीनार

युवा दिव्यांगजनों के लिए सेमीनार अंतर्गत रोजगार एवं स्वरोगार विषय पर व्याख्यान मयंक शुक्ला, सहायक संचालक, जिला कौशल विकास प्राधिकरण द्वारा दिया गया। स्वावलंबन के लिए व्यवसाय और उद्योग विषय पर व्याख्यान बीपी वासनिक, महाप्रबंधक, जिला उद्योग एवं वाणिज्य द्वारा तथा राष्ट्रीय आजीविका मिशन (बिहान) अन्तर्गत स्वसहायता समूह का गठन संचालन विषय पर व्याख्यान उपेन्द्र दुबे द्वारा दिया गया। सर्व शिक्षा अभियान के बच्चों के लिए 100 मीटरकुर्सी दौड़, 25 मीटर की दौड़, साफ्ट बाल थ्रो, रंगोली चित्रकला, गायन एवं नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

Posted By: Yogeshwar Sharma