सफाई ठेकेदारों के बाद अब रामकी कंपनी पर निगम कसेगा शिकंजा़

Updated: | Mon, 27 Sep 2021 09:30 AM (IST)

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रायपुर नगर निगम के वार्डों में साफ-सफाई के काम में लगे निगम के सफाई कामगारों की गैरहाजिरी की पड़ताल इन दिनों चल रही है। स्वास्थ्य विभाग के अध्यक्ष नागभूषण राव खुद ही अधिकारियों के साथ रोज वार्डो का औचक निरीक्षण कर सफाई कामगारों की उपस्थिति की जांच कर रहे हैं। गैरहाजिर सफाई कामगारों को चेतावनी देने के साथ ठेकेदार पर जुर्माना भी लगाया जा रहा है। अब जोन स्तर पर सफाई व्यवस्था की समीक्षा करने के साथ ही वार्ड पार्षदों से ठेका कंपनी के कचरा कलेक्शन की पूरी रिपोर्ट मांगी गई है। रिपोर्ट आने के बाद रामकी कंपनी पर निगम शिकंजा कसेगा।

रायपुर नगर निगम में कुल 70 वार्ड हैं। एक वार्ड में औसतन करीब 45 सफाई कामगार और दो-दो ठेकेदार कार्यरत हैं। साफ-सफाई व्यवस्था में लगे सफाई कामगार वार्डों से अक्सर नदारद रहते हैं। इसके कारण वार्डों की सफाई व्यवस्था पूरी तरह से चरमराने लगी हैं। जगह-जगह गंदगी फैले होने से रहवासियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सफाई कामगारों की लगातार गैरहाजिरी की शिकायत मिलने पर निगम के अधिकारी लगातार कारवाई कर रहे है, फिर भी सफाई कामगार और ठेकेदारों पर फर्क नहीं पड़ रहा है।

पिछले एक सप्ताह से भगवान गणेश की प्रतिमाओं के विसर्जन महादेवघाट में चला। शहरभर से बड़ी संख्या में लोगो के वहां पहुंचने के कारण कुछ लोगों ने गंदगी भी फैलाई। नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जब वहां का मुआयना किया, तो ड्यूटी पर तैनात 40 सफाई कामगारों में 14 गायब मिले। शहर की साफ-सफाई व्यवस्था को दुरूस्त करने निगम की स्वास्थ्य विभाग की टीम सफाई कामगार और ठेकेदारों के साथ अब ठेका कंपनी पर भी शिंकजा कसने की तैयारी कर रहा है।

वर्तमान में ठेका कंपनी की छोटी-बड़ी करीब 250 गाड़ी वार्डों में गिला-सूखा कचरा कलेक्शन कर ट्रेचिंग ग्राउंड में डंप करने का काम कर रही है। निगम के अधिकारियों का कहना है कियह शिकायत लगातार सामने आ रही है कि ठेका कंपनी की गाड़ियां वार्डों की संकरी गलियों व बस्तियों में कचरा कलेक्शन करने नहीं जा रही है, इसके कारण चारों तरफ कचरे का ढेर लग रहा है।

लिहाजा, निगम प्रशासन कचरा कलेक्शन में कसावट लाने के लिए वार्ड पार्षदों को पत्र लिखकर जिन संकरी गलियों में गाड़िया नहीं जा रही हैं, उसकी जानकारी के साथ ठेका कंपनी के कामकाज का फीडबैक मांगा है। फीडबैक के आधार पर बैठक लेकर कंपनी के खिलाफ सख्ती बरती जाएगी।

वर्जन-

रायपुर की साफ-सफाई व्यवस्था को और अधिक दुरूस्त करने की जरूरत है।अभी निगम के सफाई कामगार,ठेकेदारों की वार्डो में उपस्थिति की जांच कर रहे है।इसके बाद ठेका कंपनी के कामकाज में कसावट लाने सख्ती की जाएगी।

- नागभूषण राव, अध्यक्ष-स्वास्थ्य विभाग, रायपुर नगर निगम

Posted By: Shashank.bajpai