Ambulance Fitness News In Raipur: रायपुर में जांच कराने नहीं पहुंची एंबुलेंस, विभाग ने साधी चुप्पी

Updated: | Wed, 28 Jul 2021 11:05 PM (IST)

रायपुर। (नईदुनिया प्रतिनिधि) Ambulance Fitness News In Raipur: रायपुर की सड़कों पर वाहनों की फिटनेस को लेकर संदेह बन गया है। खासतौर पर एंबुलेंस को लेकर। क्योंकि जिले की 90 फीसद एंबुलेंस नोटिस के बावजूद फिटनेस जांच के लिए नहीं आई। जो जांच कराने पहुंची थी उसमें फिटनेस, जीपीएस सिस्टम और स्पीड़ गवर्नर जैंसी खामियां मिली थी। एंबुलेंस की जांच को पांच दिन बीत गए,लेकिन अभी तक एंबुलेंस के खिलाफ ना तो नोटिस भेजा गया और ना ही किसी प्रकार की कार्रवाई हुई। परिवहन विभाग, यातायात विभाग और स्वास्थ्य विभाग ने जांच कर मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया है। परिवहन विभाग का कहना है कि जल्द नोटिस जारी किया जाएगा।

गौरतलब है कि रायपुर जिले में प्राइवेट और सरकारी अस्पताल मिलाकर कुल एक हजार से अधिक एंबुलेंस पंजीकृत हैं। 23 जुलाई को परिवहन, यातायात और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पुलिस लाइन में जांच के लिए एंबुलेंस संचालकों को बुलाया था। जिसमें 911 एंबुलेंस जांच के लिए नहीं पहुंची। सिर्फ 89 एंबुलेंस ही जांच कराने पहुंची थी। इसमें 48 गाड़ियों में जहां जीपीएस नहीं लगा था तो वहीं 38 गाड़ियों का फिटनेस रद तथा पांच गाड़ियों का बीमा समाप्त हो गया है। परिवहन विभाग द्वारा जांच कराने के लिए ना आने वाले एंबुलेंस संचालकों को नोटिस जारी कर चलानी कार्रवाई का निर्णय लिया था लेकिन अभी तक ना तो नोटिस जारी हुई और ना ही किसी प्रकार की कार्यवाई की गई।

बोलेरो और मारुति वैन बनी एंबुलेंस

राजधानी के ज्यादातर सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों के बाहर मारुति वैन और बोलेरो एंबुलेंस के रूप में खड़ी मिल जाएंगी। इसके साथ ही सायरन लगाकर यह शहर के चौक चौराहों पर भी देखने को मिल जाएंगी। ध्यान देने वाली बात यह है कि इन एंबुलेंस की जांच भी नहीं होती है।

क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी रायपुर शैलाभ साहू ने कहा कि एंबुलेंस जांच कराने नहीं पहुंची है जल्द ही उनको नोटिस जारी कर सभी एंबुलेंस के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Kadir Khan