HamburgerMenuButton

Cyber Crime: ठगों का इमोशनल अत्याचार, बच्चे की तबीयत खराब बताकर मांग रहे पैसे

Updated: | Wed, 25 Nov 2020 06:00 PM (IST)

रायपुर। Cyber Crime: साइबर ठगों ने पैसे मांगने का इमोशनल ब्लैकमेल कर ठगी का तरीका खोज निकाला है। फर्जी फेसबुक आइडी बनाकर स्वजनों से बच्चे बीमार होने, अस्पताल में भर्ती होने का बहाना बताकर पैसे की मांग कर रहे हैं। इसके सबसे ज्यादा मंत्री, डाक्टर, आइएएस, आइपीएस और पुलिस विभाग के अधिकारियों की फेसबुक आइडी बनाकर स्वजनों से मैसेंजर में मैसेज कर पैसे की मांग की जा रही है। उल्लेखनीय है कि नईदुनिया ने फेसबुक में पैसे मांगने को लेकर कुछ लोगों से चर्चा की तो लगभग हर तीसरा आदमी इस बात को स्वीकारा कि उसके पास भी पैसे मांगने को लेकर मैसेज आया था।

फेसबुक में इस तरह मांग रहे पैसे

साइबर ठग पहले आप की फेसबुक से प्रोफाइल निकालेंगे। इसके बाद आप की मुख्य आइडी की तरह पूरी प्रोफाइल तैयार करेंगे। फेसबुक में आप से जुड़े हुए लोगों को फ्रेंड रिक्वेस्ट सेंड कर उन्हें जोड़ेंगे। आमतौर पर लोग ज्यादा ध्यान नहीं देते और जोड़ लेते हैं। इसके बाद फेसबुक मैसेंज में मैसेज कर आप का हाल चाल जानने के बाद अपनी समस्या बताते हैं। सबसे के पास एक ही तरह का मैसेज करते हैं कि उनके बच्चे की तबियत खराब है और अस्पताल में भर्ती है 20 हजार स्र्पये की जरूरत है। इसके बाद कैस पेमेंट लेने से मना कर आनलाइन पैसे की मांग की जाती है। और यह भी कहा जाता है कि कुछ ही घंटों में पैसा वापस कर दिया जाएगा।

इस तरह से बदला तरीका :

साइबर ठग अब गूगल में अपना नंबर कस्टमर केयर के रूप में दे रखे हैं। अगर गूगल पे, फोन पे या फिर अन्य आनलाइन पेमेंट एप की मदद के लिए कोई फोन करता है तो उससे जरूरी जानकारी जैसे एटीएम कार्ड नंबर, खाता नंबर और अंत में ओटीपी लेकर खाते से पैसा गायब कर देते हैं। इसके अलावा खुद को आर्मी वाला बताकर सस्ती गाड़ी बेचने का आनलाइन विज्ञापन देते हैं। उसमें अपना नंबर भी देते हैं। फोन करने पर पहले एडवांस पैसा जमा करवाते हैं। इसके अलावा नामी होटल रेस्टोरेंट के नाम पर फर्जी आफर निकालकर ठगी की वारदात को अंजाम देते हैं।

न करें आनलाइन पेमेंट

साइबर सेल प्रभारी रमाकांत साहू ने बताया कि साइबर ठगों से बचने के लिए पहले स्वयं का जागरूक होना आवश्यक है। सावधानी बरतकर ही साइबर ठगी से बचा जा सकता है। एप, वेबसाइट के इस्तेमाल, आनलाइन करते समय थोड़ा जागरूक होने की जरूरत है। पुलिस लगातार ठगों को पकड़ भी रही है। अगर किसी का भी मैसेज फेसबुक के माध्यम से पैसे के लिए आता है तो पहले उस व्यक्ति से फोन पर बात करें। आनलाइन पेमेंट न करें।

इस तरह की काल्स और मैसेज से हमेशा रहें सतर्क :

- आप अपनी फेसबुक प्रोफाइल को हमेशा लाक कर के रखें। इससे कोई भी आप की फ़ोटो डाउन लोड नहीं कर सकता।

- अगर कोई कहे कि वह बैंक या पेटीएम से बोल रहा है, तो तुरंत फोन रख दें। चाहें तो उससे कह दें कि आपका अकाउंट ब्लाक है तो आप खुद ही बैंक और पेटीएम में काल कर लेंगे या ब्रांच चले जाएंगे।

- अगर ऑफर आए तो एक रुपये भी देने की हामी न भरें। मुफ्त में कार या गिफ्ट का लालच दे रहा हो तो कह दीजिए आप घर आइए लेकर, यहीं टोकन मनी का पेमेंट कर देंगे।

- साइबर ठगों ने आजकल कुछ एप्स के जरिए फोन हैक करने के तरीके निकाले हैं। कभी अकाउंट, पेटीएम, गूगल पे से जुड़ी किसी सहायता के नाम पर कोई काल करके आपसे टीम व्यूवर, ऐनीडेस्क जैसी एप इंस्टाल करने को कहे तो तुरंत फोन काट दें।

Posted By: kunal.mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.