छत्‍तीसगढ़ : भालू पर शिकारी ने किया था हमला, डाक्टरों की टीम ने आपरेशन कर निकाला तीर

पिछले आठ वर्षों से भालुओं का झुंड़ मंदिर आता प्रसाद खाने, वन विभाग के डाक्टरों की टीम ने आपरेशन कर तीर निकाला।

Updated: | Thu, 27 Jan 2022 07:25 PM (IST)

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। छत्‍तीसगढ़ के महासमुंद जिले के बागबहारा स्थित चंडीमाता मंदिर में आकर प्रसाद खाने वाले भालू के ऊपर शिकारी ने तीर से हमला किया था। तीर भालू के कमर के नीचे लगी थी। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। वन विभाग की टीम रेस्क्यू कर जंगल सफारी लाया था जहां पर उसका उपचार चल रहा है।

वन विभाग के डाक्टरों ने बुधवार को आपरेशन कर भालू के शरीर से तीर निकाल दिया है। घायल भालू को जंगल सफारी के रेस्क्यू सेंटर में रखा गया है। गुरुवार को उसे खाने में बिस्किट और शहद दिया गया है। वन विभाग के अधिकारी का कहना है कि आपरेशन के बाद उसकी हालत में सुधार है। वन विभाग की टीम शिकारियों की तलाश में जुट गई है।

ज्ञात हो कि बागबाहरा स्थित चंडी माता मंदिर में पिछले कई सालों से नियमित आकर प्रसाद खाने वाले भालू के ऊपर शिकारी ने धनुष- बाण से हमला कर दिया था। बाण भालू के कमर के नीचे वाले हिस्से में लगा था और बाण उसके शरीर में फंस गया था और वह बुरी तरह से जख्मी हो गया था।

भालू तीन दिन से भटक रहा था। गांव वालों ने भालू ने जख्मी हालत में भालू को देखा तो इसकी सूचना वन विभाग के अधिकारियों को दी। वन विभाग की टीम मंगलवार को रेस्क्यू कर उसे जंगल सफारी लाया है। सफारी में भालू का आपरेशन कर उसके शरीर से तीर निकाल दिया गया है। वन विभाग की टीम चंडी मंदिर के आस-पास रहने वालों से पूछताछ कर रही है। अधिकारियों की दावा है कि जल्द ही शिकारी को गिरफ्तार किया जाएगा।

आठ साल से भालुओं का परिवार आता है मंदिर में

चंडीमाता मदिंर मंदिर में श्रद्धालुओं के साथ भालुओं का भी पूरा परिवार दर्शन के लिए पहुंचता है। चंडी देवी मंदिर में हर दिन सैकड़ों भक्त अपनी मनोकामना लेकर पहुंचते हैं। माता के दरबार में पहुंचने वाले भालुओं को जब मंदिर में श्रद्धालु देखते हैं तो सब की सांसें थम जाती हैं। प्रतिदिन हजारों श्रद्धालुओं का तांता लगने वाले इस मंदिर में करीब पिछले 8 साल से भालुओं का परिवार रोजाना माता के दरबार में आरती के समय पहुंचता है। कभी इनकी संख्या 5 तो कभी तीन होती है, लेकिन वर्तमान में चार हैं।

Posted By: Kadir Khan